बीसीए छात्रों को मिली राहत, जल्द ही कराई जाएगी कैरीओवर परीक्षा

  • 40 प्रतिशत छात्रों को दोबारा परीक्षा देने का मिलेगा मौका 

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लखनऊ विश्वविद्यालय में बीसीए के छात्र कैरीओवर परीक्षा को दोबारा कराने के लिए छात्र लम्बे समय से विवि के चक्कर लगा रहे थे। इसके लिए छात्रों ने कई बार विवि में प्रदर्शन भी किया। आखिरकार इन विवि की ओर से इन छात्रों को राहत दे दी गई है। विवि प्रशासन ने परीक्षा समिति की आपात बैठक में यह निर्णय लिया कि विवि व संबंद्घ कॉलेजों में इस वर्ष पांचवे सेमेस्टर के 40 प्रतिशत छात्रों की दोबारा परीक्षा कराई जाएगी।
इस संबंध में एलयू परीक्षा नियंत्रक के प्रो. एके शर्मा बताया कि इस बार बीसीए के रिजल्ट में 60 प्रतिशत छात्र ही पास हुए हैं। 32 प्रतिशत छात्रों की किसी न किसी विषय में बैक आई है और 8 प्रतिशत छात्र फेल हुए हैं। छात्रों ने इस संबंध में कुलपति एसबी निमसे से कैरीओवर परीक्षा दोबारा करवाने की मांग की थी। उन्होंने बताया कि वर्तमान में इन छात्रों की छठे सेमेस्ट की परीक्षा चल रही है। यह जून में खत्म हो जाएगी । हम लोगों ने यह निर्णय लिया है कि जुलाई में ही कैरीओवर परीक्षा करवाकर अगस्त तक रिजल्ट घोषित कर दिया जाएगा। स्पेशल पेपर करवाने से अब छात्रों का पूरा डेढ़ साल बच जाएगा। अब तक पांचवें या छठे सेमेस्टर में जिसकी भी बैक आती है तो उसकी परीक्षा अगले साल करवाई जाती है। इसके बाद छह महीने रिजल्ट और मार्कशीट मिलने में लग जाते हैं। ऐसे में छात्रों का डेढ़ साल बर्बाद हो जाता है। इस प्रक्रिया से छात्रों को एक्सट्रा समय खराब होने से बच जाएगा। परीक्षा विभाग के सूत्रों के मुताबिक बीकॉम की सभी कॉपियां जांच ली गई हैं। ऐसे में सबसे पहले बीकॉम का रिजल्ट जारी किया जाएगा। वहीं इसके बाद बीएससी और अंत में बीए का रिजल्ट जारी होगा। सबसे पहले इन सभी कोर्सेज के थर्ड ईयर के रिजल्ट जारी होंगे।

Pin It