बीबीएयू में आरक्षण को लेकर सुनवाई जुलाई के पहले सप्ताह तक टली

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। बीबीएयू में बीते कई दिनों से आरक्षण को लेकर विवाद बढ़ता ही जा रहा है। मंगलवार को छात्रों ने इसे लेकर कई घंटे विवि में प्रदर्शन भी किया था। वहीं हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने बाबा भीमराव अम्बेडकर यूनिवर्सिटी में ओबीसी छात्रों को 27 फीसदी आरक्षण देने की मांग को लेकर दायर एक याचिका पर केंद्र सरकर व यूनिवर्सिटी से दो हफ्ते में जवाब तलब किया है। मामले की अगली सुनवाई जुलाई के पहले सप्ताह में होगी।
यह आदेश जस्टिस एपी शाही व जस्टिस ए.आर मसूदी की बेंच ने यूनिवर्सिटी की पिछड़ी जन कल्याण समिति की ओर से दायर याचिका पर पारित किया। याचिका में कहा गया कि यूनिवर्सिटी में एससी-एसटी छात्रों को एडमिशन में 50 फीसदी आरक्षण दिया जा रहा है, जोकि संविधान की मंशा और अनुच्छेद 15 के प्रावधानों के विपरीत है। याचिका में मांग की गई है कि ओबीसी छात्रों को भी एडमिशन में 27 फीसदी रिजर्वेशन दिया जाए। सूत्रों की माने तो यह मामला बहुत ही
नाजुक है। मामले औैर विचार की
आवश्यकता है।

Pin It