बिजली आपूर्ति से संबंधित समस्यायें करें दूर: मुख्य सचिव

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
Captureलखनऊ । उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आलोक रंजन ने कहा है कि अक्टूबर, 2016 से ग्रामीण क्षेत्रों को कम से कम 16 घंटे एवं शहरी क्षेत्रों को 22 से 24 घंटे विद्युत आपूर्ति के लक्ष्य को प्राप्त करने हेतु प्राथमिकता के आधार पर प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित की जाये। उन्होंने कहा कि शासन की प्रतिबद्धताओं के दृष्टिगत उपरोक्तानुसार बढ़ी हुई विद्युत आपूर्ति के लिये आवश्यक विद्युत ऊर्जा का पूर्ण प्रबंध भी सुनिश्चित किया जाय। उन्होंने बताया कि अनपरा ‘डी’ परियोजना की दोनों इकाइयों से लगभग 01 हजार मेगावाट, बारा तापीय परियोजना की 02 इकाइयों से 1320 मेगावॉट एवं ललितपुर परियोजना से 1980 मेगावाट विद्युत आगामी वर्ष की पहली तिमाही तक उपलब्ध हो जायेगी।
मुख्य सचिव आलोक रंजन ने यह निर्देश शास्त्री भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में प्रदेश में 24 घंटे विद्युत आपूर्ति करने के संबंध में आयोजित बैठक में अधिकारियों को संबोधित करते हुये दिये। उन्होंने कहा कि विद्युत आपूर्ति हेतु बनायी गई कार्य योजना पर पूर्ण प्रतिबद्धता के साथ क्रियान्वयन सुनिश्चित करते हुए निर्धारित अन्तरिम लक्ष्यों के अनुसार प्रगति सुनिश्चित किया जाये। मुख्य सचिव ने निर्देश दिये कि सम्पूर्ण अभियान के अनुश्रवण हेतु प्रत्येक सोमवार समीक्षा कर व्यवधानों के त्वरित समाधान हेतु कार्यवाही भी सुनिश्चित की जाये।
इस अवसर पर प्रमुख सचिव उर्जा संजय अग्रवाल ने बताया कि विगत माह में इस विषय में विशेषतया: पारेषण लाइनों के निर्माण में उल्लेखनीय प्रगति हुई है। उन्होंने यह भी आश्वस्त किया कि कार्य की यह गति अग्रेतर लक्ष्यों की प्राप्ति में भी सुनिश्चित की जायेगी। इस अवसर पर कई अधिकारी उपस्थित रहे।

Pin It