बालिका संरक्षण गृह में लडक़ी

हुई गर्भवती, मामले की जांच शुरू

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राजधानी के मोतीनगर स्थित राजकीय बालगृह (बालिका) में एक संवासिनी के गर्भवती होने का मामला सामने आया है। युवती को बरेली महिला संरक्षण गृह से एक साल पहले स्थानांतरित किया गया था। मामला तब सामने आया जब वीरांगना आवंतीबाई महिला चिकित्सालय (डफरिन) में पांच संवासिनियों को मेडिकल जांच के लिए लाया गया। जांच में एक के गर्भवती होने की पुष्टि हुई। हालांकि, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक ने फिलहाल इस मामले में कुछ भी कहने से इनकार किया हैं।
इस बीच बाल आयोग की अध्यिक्ष जूही सिंह ने बालिका गृह से गर्भवती होने के मामले में रिपोर्ट मांगी है। उन्होंने कहा है कि एक लडक़ी जिसकी उम्र 21 साल है उसकी मेडिकल रिपोर्ट में 2 महीने से प्रेगनेंसी का पता चला है। किन पारिस्थितियों में ये हुआ है इसकी जांच करवाई जा रही है। बुधवार शाम 4 बजे तक इसपर अधीक्षिका से नोटिस का जवाब मांगा गया है। जवाब न आने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इस बीच मंत्री शादाब फातिमा के निर्देश पर संरक्षण गृह की अधीक्षिका को निलंबित कर दिया गया है।

Pin It