बड़े बकायेदारों की सूची तैयार करने में लापरवाही

  • अपर नगर आयुक्त नंदलाल सिंह ने 30 सितम्बर तक का दिया था समय

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। नगर निगम में हाउस टैक्स के बड़े बकायेदारों की वसूली के लिए शुरुआत में जोर-शोर से कवायद शुरू तो हुई। इसके बाद कर्मचारियों-अधिकारियों की सुस्त चाल से मामला ठण्डे बस्ते में जाता नजर आ रहा है। जहां एक तरफ नगर निगम की ओर से समस्त जोनों के अंतर्र्गत हाउस टैक्स के बड़े बकायेदारों का वार्ड वाइज अभियान चलाकर सूची तैयार करने के लिए 30 सितम्बर तक का वक्त दिया गया था, जिसके लिए अब तीन दिन शेष बचे हैं। लेकिन निगम कर्मचारियों की सुस्त चाल यह बयां कर रही है कि यह कार्य इतनी शीघ्र होने वाला नहीं है। इन बकायदारों की सूची बनाने में नगर निगम के कर्मचारी ज्यादा रुचि नहीं दिखा रहे हैं। अब ऐसे में लगता है कि शायद अधिकारियों को नगर निगम के खाली पड़े कोष को भरने की कोई फिक्र नहीं है।
नगर निगम की ओर से सितम्बर माह में अधिकारियों की कई बैठके हुई, जिसमें बड़े बकायदारों से हाउस टैक्स जिनका एक लाख रुपये से ज्यादा बकाया है। उनकी समस्त जोनों में वार्ड वाइज 30 सितम्बर तक सूची बनाने को अपर नगर आयुक्त नंद लाल सिंह ने निर्देश दिया था, जिसके बाद एक अक्टूबर से गृहकर ना जमा करने वाले के ऊपर कुर्की के तहत कार्रवाई करने के भी आदेश दिए गए थे। इसके बाद भी नगर निगम के जोन-एक को छोडक़र बाकी के जोनों में यह प्रक्रिया सवालों के घेरे में है।

Pin It