बंटू यादव ने तोड़ा दम, इलाके में भारी तनाव

 

हजरतगंज और नरही में भारी पुलिस बल तैनात, सीएम जा सकते हैं अंत्येष्टिï में

H14पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। हजरतगंज के रामतीरथ वार्ड के पार्षद व नरही क्षेत्र निवासी अतुल उर्फ बंटू यादव ने उपचार के दौरान आज तडक़े दम तोड़ दिया। बंटू यादव को एक नवंबर को वर्चस्व की लड़ाई में सरेशाम तमंचे से गोली मार दी गई थी। इसके बाद उनको ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया था। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया है। वहीं बंटू की मौत की खबर सुनते ही रिश्तेदार, कई इलाकों के सभासद और सैकड़ों समर्थक मर्चरी पहुंच गये। इंस्पेक्टर चौक समेत भारी संख्या में पुलिस बल मर्चरी पर तैनात रहा। वहीं, पुलिस ने बंटू पर जानलेवा हमले की धाराओं को हत्या में तरमीम कर दिया है।
मालूम हो कि एक नवम्बर को अनिल यादव की मां के शव को श्रद्धांजलि देते वक्त नरही निवासी शिव ने तमंचे से बंटू यादव के सिर में सटाकर गोली मार दी थी, जिससे वह गम्भीर रूप से घायल हो गया। उसे ट्रॉमा सेंंटर में भर्ती कराया गया था, जहां उपचार के दौरान आज तडक़े करीब 4 बजे डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। उसकी मौत की खबर फैलते ही बंटू के रिश्तेदार व समर्थक ट्रॉमा सेंटर पहुंचे। हालांकि पुलिस ने बंटू के भतीजे अभिषेक यादव की तहरीर पर एफआईआर दर्ज करते हुए आरोपी शिव यादव को दूसरे ही दिन गिरफ्तार कर लिया था। उसके बाद पुलिस ने मुन्दर, इमरान, वैष्णव समेत पांच लोगों को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया।
बंटू के शव का पोस्टमार्टम पांच डॉॅक्टरों के पैनल से कराया गया है। इसकी वीडियोग्राफी भी कराई गई है। बताया जा रहा है कि डॉक्टरों की लेटलतीफी की वजह से समर्थकों में काफी आक्रोश था, जिसको देखकर प्रशासन ने जल्द
से जल्द पोस्टमार्टम करवाने का इंतजाम किया। सूत्रों की मानें तो गनशॉट के शव का एक्स-रे कराया जाता है। करीब 10 बजे पोस्टमार्टम हाउस पर रेडियोलॉजिस्ट पहुंचा। विलंब होने की एक वजह यह भी बताई जा रही है। बंटूू यादव की मौत की खबर जब रामतीरथ वार्ड में फैली तो वहां पर सैकड़ों समर्थक इक_ïा हो गये। सब लोग सडक़ों पर निकल आये। नरही क्षेत्र में बवाल की आशंका को देखते हुए पुलिस के आलाधिकारी भी मौके पर पहुंच गये। सारा इलाका छावनी में तब्दील हो गया। क्षेत्र में सुरक्षा की दृष्टि से पीएसी और आरआरएफ तैनात कर दी गई है।

मुख्यमंत्री की अगुवाई में बनेगा आज वल्र्ड रिकार्ड

ब्रह्मïानंद बांध से सीएम अखिलेश यादव ने किया ग्रीन यूपी का शुभारंभ

आज उत्तर प्रदेश के 10 जिलों में लगाए जा रहे 10 लाख पौधे

सीएम ने लोगों से की अपील- बड़ी संख्या में लोग पौधरोपण कार्यक्रम में आएं

लखनऊ। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि वर्तमान में पर्यावरण असंतुलन सबसे बड़ी समस्या है। पर्यावरण असंतुलन से किसान परेशान हैं। पेड़ ही पर्यावरण संतुलन बनाने का सबसे सशक्त माध्यम हैं। इसलिए सरकार पौधरोपण कार्यक्रम को बढ़ावा दे रही है। आज बड़ा दिन है। प्रदेश के दस जिलों में दस लाख पौधे लगाए जाएंगे। पेड़ लगाना बड़ा काम है। यह पौधे सरकार के लिए उपयोगी नहीं आने वाली नस्लों के लिए उपयोगी साबित होंगे। इसकी शुरुआत हमीरपुर से हो रही है। इस कार्यक्रम में जनता की भी भागीदारी जरूरी है।
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव आज हमीरपुर में ग्रीन यूपी कार्यक्रम के शुभारंभ के मौके पर लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि किसानों की समस्याओं का निस्तारण सरकार की पहली प्राथमिकता है। प्रदेश सरकार किसानों की ज्यादा से ज्यादा मदद कर रही है। मुआवजा समेत किसानों की अन्य समस्याओं का निस्तारण हो रहा है। सीएम ने कहा कि केन्द्र सरकार किसानों की मदद नहीं कर रही है। वह सिर्फ राजनीति कर देश का माहौल बिगाड़ रही है। श्री यादव ने कहा कि सपा सरकार गरीबों , किसानों के लिए बेहतर काम कर रही है। अनेक योजनाएं संचालित की गई हैं जिसका लाभ उन्हें मिल रहा है। समाजवादी पेंशन योजना, लोहिया आवास जैसी योजनाओं का लाभ गरीबों को मिल रहा है। प्रदेश तरक्की की ओर अग्रसर है। लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मिल रही हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि बुंदेलखंड में बहुत सारी समस्याएं हैं। सरकार इन समस्याओं को दूर करने का प्रयास कर रही है। सरकार ने सबसे ज्यादा पैसा बुंदेलखंड के विकास के लिए दिया है और आने वाले बजट में भी इसका ध्यान रखेगी। किसानों पर बड़ा संकट आया है। कुदरत के आगे हम सभी बेबस हैं। ओलावृष्टिï से किसानों का बहुत नुकसान हुआ। प्रदेश सरकार किसानों के साथ है। इस अवसर पर श्री यादव ने मीडिया पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि विपक्षी पार्टियां कितना भी दावा कर लें कि चुनाव नतीजे उनके पक्ष में आए हैं, ऐसा नहीं है। पंचायत चुनाव में सपाई ही आगे रहे हैं। मीडिया ने जीते प्रत्याशियों को खबरों में जगह नहीं दी, बल्कि हारे हुए लोगों का नाम चलाया।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने पौधरोपण भी किया और लोगों से ज्यादा से ज्यादा पौधे लगाने की अपील की। आज प्रदेश के लिए बड़ा दिन है। आज एक नया कीर्तिमान बनने जा रहा है। एक दिन में दस लाख पौधे लगाने का प्रयास गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड में दर्ज होगा।

इन जिलों में हुआ वृक्षारोपण
जनपद हमीरपुर के अलावा सोनभद्र, ललितपुर, मिर्जापुर, लखीमपुर, फर्रुखाबाद, चित्रकूट, गौतमबुद्धनगर और श्रावस्ती में भी पौधरोपण किया गया।

नशे में धुत युवती ने मारी डीआईजी की गाड़ी को टक्कर

गोमती नगर के हैनीमैन चौराहे पर कल शाम उस समय हडक़ंप मच गया जब नशे में धुत एक युवती ने फू ड सेल में तैनात डीआईजी प्रेम नारायण की गाड़ी में टक्कर मार दी। गनीमत रही कि डीआईजी परिवार सहित एक दुकान में सामान खरीद रहे थे। लोगों ने जब इस कार को रोका तो युवती लोगों को धमकाने लगी। उसके साथ बैठा राजकिशोर नामक युवक भी नशे में था। हैरत की बात यह थी कि युवती के साथ दो छोटे बच्चे भी थे। जब पुलिस इस युवक को थाने ले गई तो घटना स्थल पर रह गई इस युवती ने नशे में हंगामा करना शुरू कर दिया। उसने कहा कि जब तक उसका देवर जिसे पुलिस पकड़ कर ले गई है वापस नहीं आएगा तब तक वह वहीं बैठी रहेगी। युवती के कपड़े देखकर थानाध्यक्ष विभूति खंड भी शर्मिंदा हो गए और युवती से कहा कि पहले अपने कपड़े ठीक करो। बाद में हंगामा बढ़ता देख महिला पुलिस बुलाई गई। लेकिन युवक का चालान कर दिया गया और महिला को छोड़़ दिया गया।

Pin It