फेल छात्राओं से तीसरे सेमेस्टर का भरवाया फार्म

एलयू पहुंची छात्राओं को परीक्षा देने से रोका, बताया गया अयोग्य

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लखनऊ विश्वविद्यालय सेमेस्टर परीक्षा देने पहुंची छात्राओं को परीक्षा देने से रोकने पर छात्राएं परीक्षा नियंत्रक से मिलने पहुंची। छात्राओं ने बताया कि हमारा प्रथम और द्वितीय सेमेस्टर में बैक था लेकिन कॉलेज ने हमारा तीसरे सेमेस्टर का फार्म भरवाने के साथ पूरी फीस भी ली है। जब हम लोग परीक्षा देने विवि पहुंचे तो हमे यह कहकर लौटा दिया गया कि हम लोग परीक्षा देने योग्य नही हैं।
पहले से इस तरह का एक मामला कोर्ट में होने के कारण परीक्षा नियंत्रक ने छात्राओं को आश्वासन देकर पांच बजे तक समय दिया। छात्राओं का आरोप है कि महाविद्यालय हमे कोई जानकारी समय से उपलब्ध नहीं कराता है। जिसकी वजह से हम लोगों का साल खराब होने की नौबत आ गई है। छात्राओं का कहना था कि जब हम फेल थे तो इस बात की जानकारी हमें पहले दी जाती ताकि हम पहले बैक क्लियर करते। हमे बताना तो दूर हमारा फार्म भरवाने के साथ ही हमारा एडमिट कार्ड भी जारी कर दिया गया। अपनी समस्याओं को लेकर प.दीनदयाल उपाध्याय डिग्री कॉलेज की छात्राएं परीक्षा नियंत्रक से मिलने पहुंची जहां उन्होंने अपने साल बचाने के लिए रोते हुए गुहार लगाई। इस संबंध में परीक्षा नियंत्रक एस.के. शुक्ल ने बताया कि कोर्ट में इसी प्रकार का एक केस लगा हुआ था। उसमें फैसला आ गया है उस छात्रा को कोर्ट से राहत मिली है। इस आधार पर जिन छात्राओं को परीक्षा देने से रोका गया है उनके परीक्षा देने के लिए अलग से इंतजाम किया जाएगा।
तीन आयुर्वेद कर्मी निलंबित
लखनऊ। लापरवाह व भ्रष्ट तीन आयुर्वेद कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया है। इसके अलावा आयुर्वेद निदेशक के निरीक्षण में गैरहाजिर मिले अधिकारियों-कर्मचारियों से जवाब तलब भी किया गया है। आयुर्वेद विभाग में भ्रष्टïाचार व अराजकता को देखते हुए बीते दिनों शासन स्तर से लापरवाह व भ्रष्ट अफसरों पर कार्रवाई के सख्त संदेश दिए गए थे।

Pin It