फर्जीवाड़ा करने वाले 80 अभ्यर्थियों की सूची तैयार

Capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लखनऊ विश्वविद्यालय में फर्जी डिग्री के मामले को लेकर 80 छात्रों की सूची तैयार की गयी है। आज से लेकर सोमवार के बीच किसी भी दिन इनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की बात कही जा रही है। साथ ही यह भी उम्मीद है कि एफआईआर में पूछताछ के दौरान फर्जीवाड़ा करने वाले लोगों चेहरा भी सामने आएगा। वही फर्जी अंक पत्र लगाकर नौकरी पाने की कोशिश करने वाले 123 अभ्यार्थियों के खिलाफ एफआईआर हो चुकी है।
विश्वविद्यालय ने अब तक फर्जी डिग्री के मामले में चुप्पी साध रखी थी। एलटी ग्रेट शिक्षक भर्ती प्रक्रिया में तीन महीने पहले लगातार फर्जी डिग्री का मामला प्रकाश में आने के बाद भी विवि प्रशासन इस पर कोई कड़ी कार्रवाई नही की जा रही थी। सवाल करने पर विवि प्रशासन का यही कहना था कि शासन को जांच के लिए पत्र भेज दिया गया है। मुजफ्फर नगर का फर्जी डिग्री का मामला सामने आने के बाद विवि की चुप्पी ने फर्जीवाड़े को बढ़ावा दिया इसका यह नतीजा हुआ की फर्जीवाड़ा रुकने के बजाए और बढ़ गया। लखीमपुर के साथ-साथ अन्य जगहों से आयी एलटी ग्रेट शिक्षकों की भर्ती में अकं पत्रों के सत्यापन के दौरान लगभग दौ सौ से अधिक डिग्रीयां फर्जी पायी गयी थी। मामला प्रकाश में आने के बाद विवि प्रशासन ने 123 अभ्यार्थियों के खिलाफ एफआईआर कर दी गयी थी। इतने के बाद भी मामला थमने का नाम नही ले रहा है विवि प्रशासन ने फर्जी डिग्री लगाकर नौकरी पाने की इच्छा रखने वाले 80 और छात्रों की सूची तैयार कर जल्द ही एफआईआर करायी जाएगी।

Pin It