प्रधान ने लगाई रेप की कीमत 20 हजार, दारोगा ने लिया 2 हजार कमीशन

Capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

  • 3 दिन तक दबंगों ने पीडि़ता को बनाए रखा बंदी
  • थाने में पिता को दिए गए जबरदस्ती 20 हजार

लखनऊ। सीतापुर मुख्यालय से 25 किमी दूर महोली थानाक्षेत्र गांव में ग्राम प्रधान ने ही रेप पीडि़ता के आबरू की कीमत लगा दी। इसमें दरोगा ने अपना कमीशन भी तय कर लिया। गांव के प्रधान और दारोगा की मिलीभगत से रेप पीडि़ता की कीमत 20 हजार रुपए लगाई गई। इतना ही नहीं, सुलह न करने पर पीडि़ता के पिता को जूतों से मारने की बात कही गई। पीडि़त लडक़ी का आरोप है कि मंगलवार रात वह घर पर अकेली थी। परिवार के सभी लोग रिश्तेदारी में गए हुए थे। इसी बीच इलाके के 4 दबंग उसके घर पर पहुंचे और जबरन उठा ले गए। सभी के मुंह पर कपड़ा बंधा हुआ था। दबंग रेलवे ट्रैक के पास एक गन्ने के खेत में ले गए। 3 दिन तक उसके हाथ-पैर बांध कर बंधक बनाए रखा। सत्यपाल नामक युवक ने उसके साथ रेप किया, जबकि अन्य 3 दबंगों ने मारपीट कर बंधक बनाए रखा। इतना ही नहीं, पुलिस से शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी दी गई।
पीडि़ता का आरोप है कि महोली थाने में तैनात दारोगा विनोद चौरसिया ने उसके पिता को आरोपियों से जबरन 20 हजार रुपए दिलाए और उसमें से 2 हजार रुपए खुद कमीशन ले लिया। जब पिता ने पैसे लेने से मना किया और आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज करने की बात कही तो दारोगा ने धमकी देते हुए कहा, लगता है तुम्हे जूतों की बात समझानी पड़ेगी। वहीं, इलाके के प्रधान प्रवेश वर्मा ने कहा कि पैसे लेकर सुलह कर लो, कमाने-खाने में क्या हर्ज है। पैसे कमाने के लिए ही तो सभी हैं। मामले को लेकर जब पीडि़ता पुलिस अधिकारी सीओ उमाशंकर सिंह के पास गई और आपबीती बताई तो उन्होंने मामले को गंभीरता से लेते हुए ही फरार दबंग को गिरफ्तार करने के आदेश दिए हैं। वहीं, प्रधान और दारोगा की भूमिका की जांच करने को कहा है।

Pin It