प्रदेश में विपक्षी दल कर रहे मुद्ïदाविहीन राजनीति

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में विपक्षी दल मुद्दाविहीन राजनीति करने लगे हैं। समाजवादी सरकार के निर्णयों और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की राजनीतिक सूझबूझ की यहां की जनता कायल है। समाज का हर वर्ग राज्य में चल रही कल्याणकारी योजनाओं से लाभान्वित हो रहा है। कृषि अर्थव्यवस्था, अवस्थापना सुविधाओं और सामाजिक सुरक्षा को प्राथमिकता में रखकर मुख्यमंत्री प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाने के लक्ष्य की ओर अग्रसर हैं। इससे विपक्षी परेशान और बुरी तरह निराश हैं। उन्हें जब यह नहीं सूझता कि वे किस निर्णय या काम का विरोध करें तो वे अनर्गल बयानबाजी करके मन का गुबार निकाल लेते हैं।
श्री चौधरी ने यह बातें प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से कही। उन्होंने कहा कि भाजपा को दिल्ली की गद्दी क्या मिली उनके नेताओं को अहंकार के झटके लगने लगे हैं। बसपा में तो सत्ता खोने से बौखलाहट है ही। दोनों जब तब प्रदेश में अराजकता का हौवा खड़ा कर राष्टï्रपति शासन की मांग करने राजभवन पहुंच जाते हैं। वे जिस अराजकता की बात करते हैं, वह उनकी दिमागी उपज है अन्यथा प्रदेश में पूर्ण शांति व्यवस्था है। अभी पिछले दिनों ही त्यौहार शांति से मनाए गए। सामाजिक सद्भाव बना रहा और कानून व्यवस्था की स्थिति चौकस रही।
उन्होंने कहा कि भाजपा को पंचायत चुनावों में करारी हार मिली और समाजवादी बड़ी संख्या में जीते तो भाजपा नेता तोहमत लगाने लगे, जबकि प्रशासन की भूमिका इसमें पूर्णतया निष्पक्ष रही है। भाजपा और बसपा नेताओं को यह गलतफहमी है कि जनता उनके कारनामों को भूल जाएगी। भाजपा ने प्रदेश में सांप्रदायिकता फैलाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। बसपा राज में जनता की गाढ़ी कमाई मुख्यमंत्री ने अपनी प्रतिमाओं पर लुटाई। पार्को, स्मारकों के नाम पर मोटा कमीशन वसूला गया। भाजपा झूठ और बसपा लूट की राजनीति करती आई है। इसके विपरीत समाजवादी सरकार ने जनता का पैसा जनहित के कामों में लगाया है और प्रदेश में जनहित की तमाम योजनाओं का क्रियान्वयन किया है।

Pin It