प्रदर्शन कर रहे भाजपा नेताओं पर लाठीचार्ज, पानी की बौछारें

  • कानून व्यवस्था को लेकर भाजपा का विधानसभा के सामने जबरदस्त प्रदर्शन
  • विधानसभा घेरने जा रहे भाजपा नेताओं को दौड़ा-दौड़ा कर पुलिस ने पीटा
  • कार्यकर्ताओं पर छोड़े गए आंसू गैस के गोले और की गई पानी से बौछारें
  • पथराव में पुलिसकर्मी, पत्रकार और भाजपा कार्यकर्ता घायल

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
Captureलखनऊ। प्रदेश की बिगड़ी कानून व्यवस्था को लेकर आज विधानसभा के सामने प्रदर्शन कर रहे भाजपा कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने लाठियां भांजी। इसमें पार्टी के कई सांसद, विधायक और कार्यकर्ता घायल हो गए। प्रदर्शनकारियों ने विधानसभा के सामने लगी बैरीकेडिंग भी तोड़ दी। पुलिस ने विधानसभा के सामने से भीड़ हटवाने और नारेबाजी कर रहे लोगों को शांत करवाने के लिए पानी की बौछारें छोड़ीं और आंसू गैस के गोले भी चलवाये। वहीं बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या ने भाजपा कार्यकर्ताओं पर लाठी चार्ज और पानी की बौछारें छोड़े जाने को पुलिस और प्रशासन की नाकामी का परिणाम बताया है।

भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश की बिगड़ी कानून-व्यवस्था को लेकर विधानसभा का घेराव किया। इस विशाल प्रदर्शन की अगुआई भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या ने की। प्रदर्शन में भाजपा सांसद, विधायक, और कार्यकर्ता शामिल हुए। कार्यकर्ताओं ने सडक़ के बीचोबीच अपनी गाडिय़ां खड़ा कर ट्रैफिक व्यवस्था को बुरी तरह ध्वस्त कर दिया। इसके बाद भीड़ को रोकने के लिए लगाई गई बैरीकेडिंग को हटाने और उसे फांदकर आगे बढऩे की कोशिश करने लगे। बीजेपी कार्यालय से भी पत्थरबाजी की जाने लगी। इसलिए मौके पर मौजूद पुलिस और पीएसी के जवानों ने बीजेपी कार्यालय को चारों तरफ से घेर लिया। इसके बाद वॉटर कैनन का प्रयोग कर कार्यकर्ताओं को विधानसभा के सामने से हटाने का प्रयास किया गया लेकिन कार्यकर्ता हटने को बिल्कुल भी तैयार नहीं थे। आखिरकार पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। लाठीचार्ज से वहां भगदड़ मच गई और कार्यकर्ता निर्माणाधीन विधान भवन की ओर भागने लगे। काफी देर तक चले हंगामे की वजह से यातायात भी पूरी तरह बाधित हो गया।
सांसद जगदम्बिका पाल ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त है। जिस तरह शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन कर रहे लोगों पर लाठीचार्ज किया गया है। उससे स्पष्ट है कि पुलिस और प्रशासन के पास प्रदर्शनकारियों पर भड़ास निकालने के अलावा कुछ नहीं बचा है।

Pin It