पैसे की कमी नहीं, कोरोना में लापरवाही पड़ेगी भारी: तिवारी

पैसे की कमी नहीं, कोरोना में लापरवाही पड़ेगी भारी: तिवारी

मुख्य सचिव ने एल-टू व थ्री के बेड को दोगुना करने और जरूरी उपकरणों को खरीदने के दिए निर्देश

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
कानपुर। मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने कहा है कि कोरोना संक्रमण रोकने के लिए व्यापक कदम उठाएं और एल-थ्री श्रेणी के अस्पतालों में तीन सौ और बेड बढ़ाएं। वेंटीलेटर और चिकित्सा उपकरणों की खरीद तत्काल कर लें। अब पैसे की कमी नहीं है क्योंकि पांच करोड़ उपलब्ध करा दिए गए हैं। अगर कहीं कोई समस्या है तो उसे मंडलायुक्त के माध्यम से दूर कराएं। किसी तरह की लापरवाही भारी पड़ेगी। एल-टू श्रेणी के अस्पतालों में भी 1004 की जगह बेड की संख्या जल्द से जल्द दो हजार कर दी जाए।
कानपुर में नगर निगम में कोरोना के एकीकृत कमांड कंट्रोल रूम के निरीक्षण के बाद बैठक में मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी को सीएमओ ने बताया कि अभी एल-थ्री के अस्पतालों में 250 बेड की सुविधा है। इस पर उन्होंने कहा कि तीन सौ और बेड बढ़ा दें। कोई समस्या हो तो बताएं। उसका तत्काल निवारण किया जाएगा। रिपोर्ट आते ही मरीजों से कंट्रोल रूम से संपर्क किया जाए। उनकी तबियत कैसी है यह जानें और ये भी पूछें कि वे होम आइसोलेशन में रहना चाहते हैं या अस्पताल में भर्ती होना चाहते हैं।

राजकीय संप्रेक्षण गृह में बंद 56 किशोर संक्रमित, हडक़ंप

लखनऊ। मोहान रोड स्थित राजकीय संप्रेक्षण गृह में निरुद्ध में 153 किशोर बंदियों में बुधवार को 56 बंदी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इसकी सूचना मिलते ही बंदियों और कर्मचारियों में हडक़ंप मच गया है। किशोर जेल में 18 साल के नीचे के अपराधियों को न्यायालय के आदेश पर रखा जाता है। नौ अगस्त को सभी 153 बंदियों की स्क्रीनिंग की गई थी। पुलिस सुरक्षा में सभी को चारबाग के राजकीय रेलवे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इन बंदियों में किसी में कोई लक्षण न होने के बावजूद कोरोना पॉजिटिव होने पर सभी हैरान हैं। अधीक्षक संजय कुमार सोनी का कहना है कि नियमित डॉक्टरी जांच के बाद ही उन्हें यहां रखा जाता है। जुकाम, बुखार या खासी जैसे लक्षण भी नहीं थे। मास्क और सेनेटाजर का प्रयोग अनिवार्य होने के बाद ऐसा होने से कर्मचारी भी परेशान हैं। सभी बंदियों के अभिभावकों को भी सूचित किया जा चुका है। पूरे परिसर को सेनेटाइज करने के साथ ही आज फिर सभी किशोर बंदियों की कोरोना जांच की जाएगी। जिला प्रोबेशन अधिकारी सुधाकर पांडेय ने बताया कि सभी किशोर बंदियों की सुरक्षा के चलते जांच कराई गई थी। रिपोर्ट आने के बाद बिना लक्षण के 56 किशोर कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

महिला की हत्या कर शव सडक़ किनारे फेंका

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
अलीगढ़। कस्बा छर्रा कोतवाली क्षेत्र में अतरौली रोड पर निर्माणाधीन यात्री विश्रामगृह में बुधवार को तीस वर्षीय अज्ञात महिला का रक्त रंजित शव मिला। उसके मुंह में कपड़ा ठुंसा था। पास में शराब की टूटी बोतल पड़ी थी। आशंका है कि बोतल से प्रहार कर हत्या की गई है। एसपी देहात व सीओ बरला ने फोरेंसिक व डॉग स्क्वाड के साथ घटनास्थल का मुआयना किया है। इस मामले में प्रधानपुत्र ने तहरीर दी है।
पुरैनी मोड़ पर यात्री विश्रामगृह का निर्माण चल रहा है। बुधवार तडक़े कुछ ग्रामीण वहीं टहल रहे थे। तभी लोगों की नजर वहां पड़े महिला के रक्तरंजित शव पर गई। महिला लाल साड़ी व काला ब्लाउज पहने थी। सूचना पर छर्रा पुलिस पहुंची और घटना से अधिकारियों को अवगत कराया। आशंका है कि महिला संग जोर जबर्दस्ती का प्रयास किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *