पुलिस नहीं लगा सकी डकैतों का सुराग

  • मलिहाबाद क्षेत्र के चार घरों में डकैतों ने असलहे के बल पर दिया घटना को अंजाम

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राजधानी के ग्रामीण क्षेत्रों में डकैतों ने अपना खौफ फैला रखा है। इसका ताज़ा मामला मलिहाबाद थाना क्षेत्र में देखने को मिला है, जहां मंगलवार की देर रात बेखौक डकैतों ने असलहे के दम पर चार घरों में लूटपाट और डकैती की। इतनी बड़ी वारदात को अंजाम देकर बदमाश फरार हो गये लेकिन पुलिस को कानों-कान खबर तक नहीं लगी। जब पीडि़त परिवार मामले की रिपोर्ट दर्ज कराने बुधवार को थाने पहुंचा तो पुलिस को जानकारी हुई। पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू कर दी लेकिन उनके हाथ अभी भी खाली नज़र आ रहे हैं।
गौरतलब है कि बीते मंगलवार को देर रात मलिहाबाद थाना क्षेत्र के हटौली ग्राम निवासी चांद बाबू पुत्र नबी अहमद के घर में असलहे से लैस डकैतों ने धावा बोल दिया। सो रहे चांद बाबू और उसकी पत्नी शहर बानो को बंधक बनाकर डकैती की वारदात को अंजाम दिया। इसके बाद डकैतों ने चांद के भाई आफताब के घर को निशाना बनाया। इतना ही नहीं अमानीगंज में भी करीब दर्जन डकैतों ने जमकर लूटपाट की। अमानीगंज निवासी विपिन सैनी के घर में भी डकैतों ने धावा बोला, जहां पति-पत्नी को बंधक बनाकर लूटपाट की। विपिन के घर लूटपाट करने के बाद पड़ोस में बने उसके भाई सरवन के घर में सीढ़ी लगाकर पहुंच गये। यहां भी लूट की घटना को अंजाम दिया। सोचनीय विषय है कि एक ही थाना क्षेत्र के दो अलग-अलग स्थानों पर डकैतों ने डकैती की वारदात को अंजाम दिया, लेकिन पुलिस सोती ही रही। इस मामले में थाना प्रभारी मलिहाबाद राम आशीष उपाध्याय ने बताया कि पुलिस बदमाशों की तलाश कर रही है। पुलिस ने संदिग्ध लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। फिलहाल इस मामले में 36 घंटे बीतने के बाद भी पुलिस को कोई भी पुख्ता सबूत नहीं मिला है, जिससे वह अपराधियों तक पहुंच सके।

अब डकैतों के निशाने पर चिनहट भी
लखनऊ। राजधानी में मलिहाबाद में डकैती के बाद अब चिनहट थाना क्षेत्र में डकैतों ने हमला बोल दिया है। चिनहट निवासी प्रमोद कुमार हार्डवेयर व्यापारी है। वह बुधवार की देर रात अपने परिवार के साथ सो रहे थे। तो उन्हें कुछ खटकने की आवाज़ सुनाई दी, जिसे सुनते ही वह घर गेट के पास पहुंचे तो गेट खुलते ही बहार खड़े डकैतों ने उन पर अचानक से धारदार हथियार से हमला कर दिया, हमला कर डकैत घर में घुस गये और जमकर लूटपाट कर फरार हो गये। हमले में प्रमोद गंभीर रूप से घायल हो गये। चिनहट थाना प्रभारी सुरेन्द्र कुमार कटियार ने बताया कि मामले जानकारी लगते ही पुलिस मौके पर पहुंची थी। उन्होंने कहा कि वो डकैत नहीं बल्कि चोर थे।

Pin It