पुतिन की बेटी को बहू बनाना चाहते थे गद्दाफी

Captureत्रिपोली। लीबिया के दिवंगत तानाशाह मुअम्मर गद्दाफी के पूर्व सलाहकार ने कहा है कि गद्दाफी अपने दूसरे बेटे के साथ रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की एक बेटी से राजनीतिक शादी कराना चाहते थे। मुहम्मद अब्द अल मुतालिब अल-हौनी ने कहा कि लीबिया और रूस के बीच संबंधों को और भी मजबूत करने के लिए गद्दाफी ने अपने दूसरे बेटे सैफ-अल-इस्लाम गद्दाफी की शादी का रिश्ता पुतिन के पास भेजा था।
अल-हौनी ने कहा कि गद्दाफी ने इस बारे में पुतिन से बात की थी और अपने बेटे को पुतिन का दामाद बनाने का प्रस्ताव भी रखा, लेकिन रूसी राष्ट्रपति ने यह कहकर मना कर दिया कि उनकी बेटी सैफ-अल-इस्लाम को नहीं जानती। गद्दाफी को बाद में अपदस्थ कर दिया गया और 2011 में नाटो के समर्थन वाले विद्रोह में मार डाला गया। इसके बाद जुलाई में सैफ-अल-इस्लाम को त्रिपोली की अदालत में सजा-ए-मौत की सजा सुनाई गई। सैफ को 2011 के विद्रोह के बाद लीबिया से भागने की कोशिश में पकड़ लिया गया था और तभी से वह देश के पहाड़ी शहर जिंतान में हिरासत में हैं।

Pin It