पीजीआई में फिर दी गयी गलत जांच रिपोर्ट

captureलखनऊ। राजधानी के पीजीआई में गलत रिपोर्ट से एक मरीज की जान पर बन आई है। यहां की रीनल लैब से आयी रिपोर्ट में मरीज के गुर्दे ठीक बताये गये थे। लेकिन मरीज की हालत बिगडऩे पर परिजन पीजीआई की इमरजेंसी लेकर पहुंचे। वहां पर चिकित्सकों ने बाहर से जांच करवाई। जिसके बाद गुर्दे खराब होने की बात सामने आयी। इसके बाद मरीज की डायलिसिस कर जान बचायी गई है। राम बहादुर पिछले पांच सालों से गुर्दे की बीमारी से पीडि़त है। उनका लगातार इलाज पीजीआई में चल रहा है। दो दिन पहले राम बहादुर पीजीआई दिखाने आये थे। तब उनकी सीरम क्रिएटनिन की जांच करायी थी। जांच ठीक बतायी गयी थी। इसके बाद वे वापस चले गये थे। हालत बिगडऩे पर इलाज के लिए पीजीआई पहुंचे। जहां पर मामले का खुलासा हुआ। पीजीआई में गलत रिपोर्ट आने का यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले एक व्यक्ति की एचसीवी की जांच रिपोर्ट गलत आ चुकी है।

Pin It