पारा मामले में एसओ सहित चार निलंबित

  • अपराधों के चलते कई थानेदारों का फेरबदल

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राजधानी में दिन पर दिन बढ़ते अपराधों पर नकेल कसने में नाकाम रहे पारा एसओ विनोद यादव सहित चार को एसएसपी मंजिल सैनी ने सस्पेंड कर दिया, जबकि पुलिस ने पारा गैंग रेप और डकैती मामले में सीतापुर के एक गैंग की आशंका जताई है। बढ़ते अपराधों पर लगाम लगाने में नाकाम कई थाना प्रभारियों का फेरबदल किया गया है।
गौरतलब है कि बीते 26 सितम्बर की देर रात पारा थाना क्षेत्र स्थित गढ़ी पतौरा ग्राम में एक व्यक्ति के घर सोमवार की देर रात करीब आधा दर्जन से अधिक असलहाधारी डकैतों ने न सिर्फ डकैती की वारदात को अंजाम दिया बल्कि लूट-पाट के बाद बदमाशों ने पीडि़त की नाबालिग बेटी के साथ सामूहिक बलात्कार भी किया था। इसका खुलासा करने में नाकाम रहे एसओ विनोद यादव, मोहान रोड चौकी प्रभारी एसआई कुलदीप यादव, बीट कांस्टेबल कमल नारायण और त्रिभुवन सिंह को एसएसपी मंजिल सैनी ने निलंबित कर दिया। वहीं कई थाना प्रभारियों के तबादले कर दिए गए, जिसमें उपनिरीक्षक सुभाष सिंह थानाध्यक्ष नगराम से वजीरगंज, उपनिरीक्षक हरिशंकर चन्द्र थानाध्यक्ष वजीरगंज से अलीगंज, उपनिरीक्षक कमलेश्वर यादव थानाध्यक्ष अलीगंज से चौकी प्रभारी मुंशी पुलिया, राममूर्ति यादव चौकी मुंशीपुलिया से थानाध्यक्ष गौतमपल्ली, उपनीरिक्षक अरूण कुमार थानाध्यक्ष गौतमपल्ली से पुलिस लाइन, उपनिरीक्षक अनुराग थानाध्यक्ष इटौंजा से पारा, उपनिरीक्षक संजय थानाध्यक्ष बंथरा से इटौंजा, उपनिरीक्षक सत्येन्द्र राय थानाध्यक्ष विभूतिखंड से बंथरा, उदय प्रताप अपराध शाखा से थानाध्यक्ष नगराम बनाये गए हैं।

Pin It