’पाक को भारतीय सेना जवाब जरूर देगी’

  • पीएचडी चैंबर में आयोजित किया गया श्रद्घांजलि कार्यक्रम
  • उरी के आतंकी हमले में शहीद 18 जवानों को सबने याद किया

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

captureलखनऊ। उरी हमले में शहीद 18 सैनिकों की याद में गुरुवार को श्रद्घांजलि कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में बिहार रेजीमंट के मेजर जनरल (रिटायर्ड) रजिंदर सिंह ने कहा कि भारतीय सेना पाक की इस नापाक हरकत का जवाब जरूर देगी। उसके पास ऐसे कई प्रशिक्षित सैनिकों की टुकडिय़ां हैं, जो हेलीकाप्टर से दुश्मन के क्षेत्र में जाकर आतंकी कैम्पों में सर्जिकल आपरेशन सफलता से अंजाम देकर कुछ ही घंटों में लौट सकते हैं। बहुत संभव है, ऐसे आपरेशन अंजाम भी दिये जा रहे हों, लेकिन हमेशा इनकी पुष्टि सेना या भारत सरकार की तरफ से नहीं की जाती है। उन्होंने कहा कि अब युद्घ के कायदे बदले हैं। अब टैंक लेकर नहीं बल्कि दुश्मन आतंकी भेजकर भारत को नुकसान पहुंचाना चाहता है, इनसे सर्जिकल आपरेशन्स के जरिये मुकाबला किया जाना ही बेहतर विकल्प है।
विभूतिखंड स्थित पीएचडी चैम्बर कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में उप्र. सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास बोर्ड के निदेशक ब्रिगेडियर (रिटायर्ड) राजदेव सिंह ने अपने अनुभवों के बारे में विस्तार से बताया। इसके साथ ही रियलिटी शो के एंकर सुशांत सिंह ने कहा कि देश भर में लोग उरी में शहीद सैनिकों के प्रति अपने-अपने तरीके से दुख प्रकट कर रहे हैं। देशभक्ति की बातें की जा रही हैं लेकिन हम यह सवाल कर रहे हैं कि देश के सैनिक हमारे लिए शहीद हो रहे हैं, तो क्या हमारा जीवन इस योग्य है? उन्होंने कहा कि एक ओर हम टैक्स बचाने से नए-नए नजरिये खोजते हैं, सडक़ पर हादसों और हमलों में लोगों को मरते देखते हैं, तो उन्हें बचाने के बजाय मोबाइल कैमरे में वीडियो बनाते हैं। वहीं दूसरी तरफ बात करते हैं कि हमारे सैनिक पाकिस्तान पर हमला कर हमारी रक्षा करें। इस कार्यक्रम में नेताजी सुभाष चन्द्र बोस के बड़े भाई की पड़पौत्री जयंती बोस रक्षित, यूपी पुलिस महिला सम्मान प्रकोष्ठ महानिदेशक सुतापा सान्याल सहित कई अन्य अतिथि शामिल थे।

Pin It