पंचायत चुनाव की काउंङ्क्षटग जारी

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में जिला पंचायत और क्षेत्र पंचायत सदस्यों के चुनाव में पड़े वोटों की गिनती हो रही है। इसमें क्षेत्र पंचायत सदस्य के 360 नतीजे घोषित हो चुके हैं। क्षेत्र पंचायत के 787 सदस्यों का परिणाम आना बाकी है। जिसकी मतगणना दोपहर बाद तक चलने की उम्मीद है।

Captureजिला पंचायत सदस्यों के 3112 पदों और क्षेत्र पंचायत के 77576 पदों के लिए मतगणना रविवार सुबह 8 बजे शुरू हो गई थी। इसमें जिला पंचायत के 19 पदों के नतीजे सामने आ चुके हैं। जिला पंचायत के 18 सदस्य निर्विरोध चुने गए हैं। राज्य के चुनाव आयुक्त सतीश अग्रवाल के मुताबिक विजेताओं को मोबाइल पर एसएमएस भेजकर जानकारी दी जा रही है। इसके साथ ही चुनाव के नतीजे वेबसाइट पर भी अपलोड किए जा रहे हैं। इसमें लखनऊ समेत कई अन्य जिलों के वार्डों की काउंटिंग हो रही है।
लखनऊ के जिलाधिकारी राजशेखर के मुताबिक सभी आठों ब्लाकों की मतगणना का कार्य शान्तिपूर्वक चल रहा है। मतगणना केन्द्रों की सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद है। जिले में अब तक परिणामों में 787 क्षेत्र पंचायच सदस्यों में से 614 के परिणाम घोषित कर दिये गये हैं। काकोरी ब्लाक में दो बीडीसी प्रत्याशियों को बराबर मत मिले, जिनके भाग्य का फैसला लकी ड्रॉ से निकाला गया। वहीं जिला पंचायत सदस्यों के वोटों की गिनती भी जारी है, जिसमें 31 जिला पंचायत सदस्यों में से 16 के परिणाम आ गये हैं। वर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष विजय बहादुर की पत्नी माया देवी विजयी घोषित हुई हैं। इस दौरान विजयी प्रत्याशियों ने निर्वाचन आयोग के निर्देशों को दरकिनार कर जीत हासिल होने के बाद जुलूस भी निकाले हैं।
विजय जुलूस निकालने पर बैन
काउंटिंग के बाद विजयी प्रत्याशियों के विजय जुलूस निकालने पर चुनाव आयोग ने बैन लगा दिया है। राज्य अपर निर्वाचन आयुक्त जेपी सिंह ने बताया कि विजय जुलूस के दौरान हिंसा भडक़ने की आशंका ज्यादा होती है। इसलिए इस पर बैन लगाया गया है। मतगणना के बाद विजयी घोषित हुए सभी प्रत्याशी बिना किसी जुलूस या जश्न मनाए अपने घर जाएंगे। इस संबंध में सभी डीएम और एसएसपी को लेटर लिखकर इस निर्देश को सख्ती से पालन करवाने के निर्देश दिए हैं। इसके बाद भी जुलूस निकालने पर रोक नहीं लग पा रही है।
वाराणसी में सपा-बीजेपी में कांटे की टक्कर
काशी में सपा और बीजेपी समर्थित उम्मीदवारों में कांटे की टक्कर है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा गोद लिए गांव जयापुर गांव से बीजेपी समर्थित माधुरी पटेल 26 और कृपा शंकर सिंह से 106 वोट से जीते। दोनों बीजेपी समर्थक हैं। पीडब्ल्यूडी मंत्री और उनके भाई सपा विधायक महेंद्र सिंह की पत्नी शकुंतला देवी 262 मतों से हारीं। शकुंतला देवी ब्लॉक प्रमुख हैं। चंदौली से सपा समर्थित प्रत्यासी आगे हैं। बीजेपी सकलडीहा विधायक सुशील सिंह की पत्नी किरन सिंह आगे चल रही हैं। सैयदराजा सपा विधायक मनोज सिंह की बहन मीना सिंह आगे चल रही हैं। सपा के पूर्व सांसद रामकिशुन यादव का लडक़ा संतोष यादव सपा समर्थित और भतीजा मुलायम सिंह यादव आगे चल रहे हैं।
आगरा के फतेेहाबाद में दीमक ने बर्बाद कर दिए बैलेट पेपर
फतेहाबाद के वार्ड नंबर 43 में गड़बड़ी का मामला सामने आया है। यहां रिहावली गांव के बूथ नंबर 6 पर बैलेट बॉक्स खाली मिला है। बताया जा रहा है कि बैलेट बॉक्स में दीमक लग गया थाए जिससे इसमें रखे 627 बैलेट पेपर बर्बाद हो गए। डीएम ने मामले को संज्ञान में लिया है। उन्होंने दोबारा चुनाव कराने की बात कही है।
बस्ती में मिले फर्जी वोट
बस्ती में बीडीसी प्रत्याशी मंजू पत्नी राजेश कुमार के चुनाव चिन्ह अंगूठी को लेकर फर्जी वोट डालने का मामला सामने आया। कुल 394 मतदाताओं वाले इस गांव में बैलेट बॉक्स से 435 वोट फर्जी निकले। आरओ जय कृष्ण शुक्ल ने इसकी पुष्टि की है। बैलेट पेपर के सीरियल नंबर भी मैच नहीं कर रहे थे। मामला सामने आने के बाद दूसरे प्रत्याशी चुनाव निरस्त करने की मांग कर रहे हैं।

इलाहाबाद में काउंटिंग के दौरान भिड़े दो प्रत्याशियों के समर्थक
इलाहाबाद के शंकरगढ़ के राजा कमलाकर इंटर कॉलेज में काउंटिग के दौरान दो प्रत्याशियों के समर्थक भिड़ गए। वे मारपीट करने लगे लेकिन पुलिस ने मामला संभाल लिया। इसके अलावा सुल्तानपुर के कादीपुर में काउंटिंग सेंटर पर कई कर्मचारियों के देरी से आने के काम देरी से शुरू हो सका। देर से आने वाले कर्मचारियों पर कार्रवाई करने के लिए एसडीएम ने निर्देश दिए हैं। मतगणना का कार्य आज दोपहर 12 बजे तक पूरा हो जाने की संभावना है।

Pin It