धर्म और जाति के नाम पर वोट न मांगने का फैसला सराहनीय

चुनावों के दौरान धर्म और जाति के नाम पर अब वोट मांगा नहीं जा सकेगा। सुप्रीम कोर्ट ने अपने एक ऐतिहासिक फैसले में जाति और धर्म के नाम पर वोट मांगने को गैरकानूनी घोषित कर दिया है। अब चाहे प्रत्याशी हो या उसके विरोधी वे धर्म-जाति और भाषा का इस्तेमाल करके वोट नहीं ले पायेंगे। सुप्रीम कोर्ट के इस निर्णय पर हमारी संवाददाता ऐश्वर्या गुप्ता ने जानी लखनऊवाईट्स की राय…

capture

Pin It