दुर्लभ बीमारी पिजेन चेस्ट का हो रहा इलाज

पिजेन चेस्ट डिफारमिट को ठीक करने के लिए केजीएमयू ने तैयार किया सपोर्ट सिस्टम

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। किशोरावस्था में आने वाली सीने की हड्डी में विकृति से निपटने में केजीएमयू ने सफलता हासिल की है। दुर्लभ बीमारी पिजेन चेस्ट डिफारमिटी को ठीक करने के लिए पेक्टस कारीनेटम स्पाइनल आर्थोसिस डिवाइस नामक सपोर्ट सिस्टम तैयार किया गया है, जिसे छह महीने लगातार पहनने पर हड्डियों के अनियमित उभार से निजात पायी जा सकती है। शोधकर्ता अरविंद निगम ने एक किशोर में इस सिस्टम बीमारी से निजात दिलाने का दावा किया है। उन्होंने बताया कि किशोरावस्था में होने वाली पिजेन चेस्ट डिफारमिटी बीमारी को बिना सर्जरी के ठीक किया है। लिम्ब सेंटर में इलाज के दौरान उन्होंने विभागाध्यक्ष डा. अनिक कुमार गुप्ता के नेतृत्व में बनाये गये सपोर्टिग आर्थोसिस में पेक्टस कारीनेटम स्पाइनल आर्थोसिस को 24 घंटे पहनना पड़ता है।

Pin It