दीदी, अम्मा रिटर्न, असम में खिला कमल, कांग्रेस का सफाया

19 MAY PAGE-11

  • असम चुनाव में जीत और केरल में खुले खाते से बीजेपी है गदगद

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव की मतगणना जारी है। अब तक आए रुझानों में पश्चिम बंगाल में एक बार फिर दीदी की वापसी हो रही हैं तो वहीं तमिलनाडु में अम्मा ने सभी एक्जिट पोल्स को फेल करते हुए एक बार फिर करुणानिधि को पटखनी दी है। दूसरी तरफ असम में कमल खिलता नजर आ रहा है तो केरल में कांग्रेस अपनी सत्ता गंवाती नजर आ रही है। केरल में लेफ्ट का रुझानों में बढ़त बनाएं हुए हैं। कुल मिलाकर इन नतीजों में कांग्रेस का सूफड़ा साफ होता दिख रहा है। उधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ममता बनर्जी, जयललिता और सर्बानंद सोनोवाल से फोन पर बात कर उन्हें जीत की बधाई दी है। पीएम ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। साथ ही पीएम ने असम और केरल में बीजेपी के प्रदर्शन पर भी पार्टी को बधाई दी। मोदी ने कहा कि कार्यकर्ताओं की मेहनत आखिरकार रंग लाई।
इस चुनाव में देश की जनता ने एक बार फिर दो महिला मुख्यमंत्रियों पर विश्वास जताते हुए उन्हें पूर्ण बहुमत के संकेत दिए हैं। तमिलनाडु में जयललिता को और पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी को जबरदस्त जनादेश मिला है। वहीं असम में पहली बार कमल खिला है। यहां जनता ने भाजपा पर विश्वास दिखाते हुए उसे पूर्ण बहुमत दिया है। यहां सर्वानंद सोनोवाल भाजपा की ओर से मुख्यमंत्री पद के दावेदार होंगे। कांग्रेस ने अपनी हार स्वीकार कर ली है। इन चुनावी नतीजों में सबसे बुरा हाल कांग्रेस का है। केरल में कांग्रेस के हाथों से सत्ता छिनती नजर आ रही है। यहां अब 140 सीटों से मिले रुझानों में केरल की जनता ने लेफ्ट को बहुमत दिया है। फिलहाल खबर लिखे जाने तक केरल में लेफ्ट 85 सीटों पर आगे चल रही है। वही भाजपा भी एक सीट पर आगे है।

चुनाव परिणाम
पश्चिम बंगाल    तमिलनाडु         असम          केरल               पुडुचेरी
टीएमसी-214     एडीएमके-126   बीजेपी-85   कांग्रेस-47        कांग्रेस-10
कांग्रेस-43         डीएमके-102     कांग्रेस-26    लेफ्ट -90         एआईएनआरसी-13

पुडुचेरी में कांटे की टक्कर

पुडुचेरी में कांग्रेस को लगातार झटका लगता नजर आ रहा है। यहां एनआरसी एक बार फिर सरकार बना सकती है। दोनों के बीच कांटे की टक्कर है। अब तक आए रुझानों में कांग्रेस 10 और एनआरसी 11 सीटों पर आगे चल रही है।

सपा में जाने की खबर अफवाह: रीता बहुगुणा

  • व्हाट्सऐप पर वायरल हुई थी उनके सपा में शामिल होने की खबर

प्रभात तिवारी
लखनऊ। कांग्रेस की कद्दावर नेता रीता बहुगुणा जोशी के सपा में जाने की खबर व्हाट्सऐप पर वायरल होने के बाद पूरे सियासी गलियारे में हलचल मच गई। कांग्रेस और सपा से जुड़े नेताओं के मोबाइल पर सैकड़ों फोन आने लगे। हर कोई खबर की सत्यता और उनके कांग्रेस छोड़ कर जाने की वजह जानने को उत्सुक था। आखिरकार रीता बहुगुणा जोशी ने आज सुबह अपने फेसबुक पेज पर सपा में जाने की खबर का खण्डन किया और ऐसी भ्रामक खबरें फैलाने वालों के प्रति नाराजगी जाहिर की है।
उत्तराखण्ड में बिजय बहुगुणा की वजह से कांग्रेस की किरकिरी होने और उनके भाजपा में चले जाने के बाद यूपी में रीता बहुगुणा जोशी की चुनौतियां बढ़ गई हैं। पार्टी के अहम लोगों में प्रमुख स्थान रखने वाले बहुगुणा परिवार की विश्वसनीयता सवालों के घेरे में खड़ी हो गई है। उत्तर प्रदेश के सियासी गलियारे में रीता बहुगुणा को लेकर तमाम तरह की अटकलें लगाई जाने लगीं थीं, जिसमें प्रशांत किशोर की नीतियों और प्रस्तावों को पसंद नहीं करने, पार्टी मुख्यालय पर प्रशांत किशोर की मौजूदगी में होने वाली सारी बैठकों में अनुपस्थित रहने, पार्टी से संबंधित बयानों और मुद्दों पर अपने कार्यालय से ही जवाब जारी करने को उनकी नाराजगी के साइड इफेक्ट के रूप में देखा जा रहा था। इसके अलावा आगामी विधानसभा चुनाव में कैण्ट विधानसभा क्षेत्र की विधायक सीट पर सपा की तरफ से अपर्णा यादव को प्रत्याशी घोषित करने और रीता बहुगुणा जोशी के खिलाफ वीवीआईपी रोड पर गुमशुदगी के पोस्टर छपने की घटनाओं ने मुश्किलें बढ़ा दीं। इतना ही नहीं पार्टी में अंदरखाने उत्तराखण्ड की घटना के बाद रीता बहुगुणा जोशी को लेकर काफी विरोध भी चल रहा था। ऐसे में अचानक व्हाट्सऐप पर रीता बहुगुणा जोशी के सपा में शामिल होने की खबरों को सत्य माना जाने लगा था। सियासी गलियारे में चर्चा होने लगी की सपा मुखिया मुलायम सिंह ने अपनी बहू अपर्णा यादव की सीट पर जीत को पक्का कराने के मकसद से रीता बहुगुणा जोशी को पार्टी में शामिल करने की चाल चली है। इसमें रीता बहुगुणा जोशी को सपा की तरफ से किसी अन्य सीट से टिकट दिए जाने की खबरें भी वायरल हुई थीं। इसलिए माना जाने लगा कि बेनी प्रसाद वर्मा के बाद सपा यूपी में कांग्रेस को दूसरा बड़ा झटका देने में कामयाब हो गई है। अब किंगमेकर प्रशांत किशोर भी यूपी से कांग्रेस का पत्ता साफ होने से बचा नहीं सकते हैं। लेकिन रीता बहुगुणा जोशी की तरफ से सपा में जाने की खबरों का खंडन आने के बाद अफवाहों पर विराम लग गया है। ये अलग बात है कि चर्चाओं का दौर अभी भी जारी है।

एयर इजिप्ट का विमान समंदर में गिरा, 69 यात्रियों की मौत

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। पेरिस से काहिरा जा रहा इजिप्ट एयर का विमान आज सुबह रडार से लापता हो गया। एयरलाइंस के मुताबिक उसमें 69 यात्री सवार थे। स्काई न्यूज के मुताबिक इजिप्ट सिविल एविएशन अथॅारिटी ने बताया कि विमान दुर्घटनाग्रस्त होकर समंदर में गिर गया। इस प्लेन में 59 पैसेजर्स के साथ 10 क्रू मेंबर सवार थे।
प्रवक्ता के मुताबिक पेरिस से काहिरा जा रहा इजिप्ट एयर का एक विमान रडार से लापता हो गया। एयरलाइन के अधिकारिक एकाउंट पर एक ट्वीट के जरिए कहा गया है कि स्थानीय समयानुसार 23: 09 बजे (02.39 आईएसटी) पर विमान उड़ान संख्या एमएस804 पेरिस से काहिरा के लिए रवाना हुआ और रडार से लापता हो गया। उस वक्त विमान 37 हजार फीट पर उड़ान भर रहा था।

उपचुनाव के नतीजों ने सपा को दी राहत

  • गाजीपुर के जंगीपुर में सपा की जीत, बिलारी में कांटे की टक्कर

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में दो विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव की आज मतगणना चल रही है जिसमें गाजीपुर के जंगीपुर विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी किस्मती देवी ने जीत दर्ज की है। उन्होंने बीजेपी रमेश सिंह उर्फ पप्पू सिंह को हराया। वहीं, दूसरी तरफ मुरादाबाद के बिलारी सीट पर समाजवादी पार्टी और बीजेपी में कांटे की टक्कर जारी है। उपचुनाव के नतीजों से सपा खेमे में खुशी का माहौल है।
बता दें जंगीपुर उपचुनाव को समाजवादी पार्टी ने अपनी प्रतिष्ठा का विषय बना लिया था। पिछले उपचुनाव में कुछ सीटों पर पार्टी को मिली हार के बाद कार्यकर्ताओं में जोश भरने के लिए सपा ने जंगीपुर में अपनी पूरी ताकत झोंक दी थी। आज जब परिणाम सामने आया तो सपा कार्यकर्ता खुशी से झूम उठे। हालांकि बसपा ने इस चुनाव में अपने प्रत्याशी खड़े नहीं किए थे। अब मुरादाबाद के चुनाव परिणाम पर सबकी निगाहें लगी हुई हैं। सपा और बसपा के बीच कांटे की टक्कर चल रही है। 22वें राउंड की काउंटिंग के बाद सपा के फहीम की बढ़त रुक गई है। खबर लिखे जाने तक बीजेपी के सुरेश सैनी से 6500 वोटों से आगे हैं।

Pin It