दिल्ली सरकार और उपराज्यपाल फिर आमने-सामने

captureनई दिल्ली। दिल्ली के नए उपराज्यपाल और सरकार के बीच टकराव की शुरुआत हो गई है। उपराज्यपाल अनिल बैजल ने केजरीवाल सरकार की डीटीसी बसों के किराए में कटौती की फाइल वापस लौटा दी है। इससे एक बार फिर सरकार और उप राज्यपाल आमने-सामने आ गये हैं।
दिल्ली सरकार ने उपराज्यपाल को डीटीसी बसों का किराया 75 फीसदी तक घटाने का प्रस्ताव दिया था। दिल्ली के परिवहन मंत्री सत्येंद्र जैन ने दिसंबर में डीटीसी बसों के किराए में कटौती की घोषणा की थी, जिसकी फाइल इस हफ्ते की शुरुआत में नए उपराज्यपाल अनिल बैजल को भेजी गई थी। दिल्ली सरकार ने प्रस्ताव दिया था कि एसी बसों का किराया 10 रुपये और नॉन एसी बसों का किराया 5 रुपये किया जाए। ये घोषणा दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण पर लगाम लगाने के इरादे से की गई थी। लेकिन अनिल बैजल ने अपने तर्कों के साथ फाइल लौटा दी। उन्होंने अपना तर्क प्रस्तुत करते हुए कहा कि वित्त मंत्रालय से प्रस्ताव को लेकर कोई चर्चा नहीं की गई।

Pin It