दारोगा ने थाने से भगाया सीओ ने रखी लाज

शादी का झांसा देकर यौन शौषण का मामला

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। शादी का झांसा देकर तीन वर्ष तक युवती का शारीरिक शोषण कर रहे युवक के परिजनों ने युवती को मारपीट कर घर से भगा दिया। पीडि़ता रिपोर्ट दर्ज कराने थाने पहुंची। लेकिन पुलिस ने पीडि़ता की नहीं सुनी। युवती ने इस मामले में सीओ से मिलकर न्याय की गुहार लगाई। सीओ के आदेश पर पुलिस मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।
मलिहाबाद के ग्राम महमूदनगर निवासी रामखेलावन (काल्पनिक नाम) की 19 वर्षीय पुत्री रिया रावत (काल्पनिक नाम) का आरोप है कि उसका प्रेम-प्रसंग तीन वर्ष से गांव के ही निवासी रामकुमार के पुत्र नीरज से चल रहा है। नीरज उसका शारीरिक शोषण करता रहा। नीरज ने उसे आश्वासन दिया था कि वह अपने परिवार वालों को सहमत कर उससे धूमधाम से शादी करेगा। कुछ समय बाद नीरज नौकरी करने की बात बताकर दिल्ली चला गया। दिल्ली से वापस आने पर युवती माल थाना क्षेत्र के ग्राम बांझी स्थित साईं क्लीनिक पर उससे मिली। युवती ने बताया कि नीरज ने उसे शादी का फिर आश्वासन दिया। युवती का आरोप है कि तीन जुलाई को रात दो बजे नीरज उसके घर आकर उसे अपने घर ले गया। जहां शारीरिक शोषण किया। शादी करने की बात कहने पर नीरज के पिता रामकुमार, मां, भाई गड्डु, मनोज व सुनील ने उसे मारपीट कर धक्का देते हुए घर से बाहर भगा दिया। शोर सुनकर पड़ोसी एकत्र हो गये। पड़ोसियों के विरोध करने पर नीरज के परिजनों ने नीरज को कहीं बाहर भेज दिया। इस मामले में युवती ने पुलिस क्षेत्राधिकारी अभयनाथ त्रिपाठी से न्याय की गुहार लगाई। सीओ के आदेश पर पुलिस मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

लोहिया पार्क में आयोजित होगा निर्धन स्वरोजगार मेला

लखनऊ। शहर के विभिन्न वार्डों में आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को स्वरोजगार स्थापित करने का निर्णय लिया गया है। इस उद्देश्य को पूरा करने के लिए 29 जुलाई को लोहिया पार्क में निर्धन स्वरोजगार मेला आयोजित किया जायेगा, जिसमें तकनीकी विशेषज्ञों के माध्यम से लोगों को स्वरोजगार स्थापित करने योग्य प्रशिक्षण दिया जायेगा।
जिलाधिकारी राज शेखर के मुताबिक दौलतगंज, बालागंज, आचार्य नरेन्द्र देव वाड$, हुसैनाबाद वार्ड, काली जी चैक समेत अन्य कई मोहल्लों में आर्थिक रूप से कमजोर परिवार रहते हैं। ये बर्तन मांजने, ठेला खींचने और मजदूरी करने का काम करते हैं। इन सभी परिवारों एवं बेरोजगारों को कौशलीय प्रशिक्षण दिया जायेगा। उनके जीवन स्तर परिवर्तन लाये जाने का प्रयास किया जायेगा। इसमें राज्य सरकार की महत्वपूर्ण योजना कौशल विकास मिशन के अंतर्गत डूडा ने स्वरोजगार मेला आयोजित करने का निर्णय लिया है। इस संबंध में निदेशक कौशल विकास मिशन और परियोजना अधिकारी डूडा को निर्धनों का सर्वेक्षण करवाने और स्वरोजगार प्रशिक्षण दिलाने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इसलिए ऐसे व्यक्तियों से मेले में भागीदारी करने और योजना का लाभ लेने की अपील की गई है। इस कार्यक्रम में 500 निर्धन व्यक्तियों को स्वरोजगार मेले में स्वरोजगार प्रशिक्षण के लिए चयन पत्र बांटे जायेंगे।

 

 

Pin It