थानाध्यक्षों के बाद कप्तान की नजर अब चौकी इंचार्जों पर

रात 11 बजे एसएसपी राजेश पांडेय ने वायरलेस सेट पर दिये कई अहम निर्देश

प्रापर्टी डीलरों के ऑफिसों में खड़े वीआईपी वाहनों की चेकिंग के दिये निर्देश

 Capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राजधानी का पद सम्भालने के बाद हुई ताबड़तोड़ कई वारदातों के बाद एसएसपी राजेश कुमार पांडेय ने थानाध्यक्षों के बाद अब चौकी इंचार्जों को अपने रडार पर लिया है। थानाध्यक्षों से जहां भूमि विवाद रजिस्टर के बारे में जानकारी मांगी थी वहीं वायरलेस सेट पर चौकी इंचार्ज को अहम निर्देश देते हुये उनको चेतावनी भी दी। श्री पांडेय के दिशा-निर्देश पर यदि चौकी इंचार्ज ईमानदारी से कार्य करेंगे तो राजधानी में अपराधों में कमी हो सकती है और बहुत मामले आसानी से निपट सकते हैं। इसके अलावा आम आदमी भी चैन से सो सकेगा। बता दें कि अलीगंज में युवती की लाश मिलने पर श्री पांडेय ने लापरवाही बरतने पर थानाध्यक्ष और विवेचक को सस्पेंड कर दिया है।

छेडख़ानी, रेप और गैंगरेप वालों पर गुंडा व गैंगस्टर एक्ट

एसएसपी श्री पांडेय ने चौकी इंचार्ज की जिम्मेदारी तय करते हुये यह साफ तौर पर कहा है कि उनके क्षेत्र में छेडख़ानी, रेप और गैंगरेप करने वाले अपराधियों पर गुंडा और गैंगस्टर एक्ट की कार्रवाई करेंगे। कई बार जमानत पर छूट जाने के बाद भी अपराधी महिला सम्बन्धी अपराध करके फरार हो जाते हैं।
5,500 विवेचनायें हैं लम्बित
श्री पांडेय ने निर्देश दिया कि हाईकोर्ट के आदेश पर 31 दिसम्बर 2014 तक लम्बित विवेचनायें समाप्त करने का आदेश था लेकिन लापरवाही के कारण ऐसा नहीं हो पाया। उन्होंने ने साफ तौर पर कहा कि लम्बित विवेचनाओं को चौकी इंचार्ज ईमानदारी से जांच करते हुये समाप्त करें। बता दें कि जनपद में लगभग 5,500 सौ विवेचनायें लम्बित हैं।

इन गलतियों पर चौकी इंचार्ज पर होगी कार्रवाई

  • क्षेत्र में पडऩे वाले सभी बैंकों की सुरक्षा की जिम्मेदारी चौकी इंचार्ज की होगी। यदि बैंक के पास या बैंक में कोई घटना घटित होती है तो इसकी जिम्मेदारी चौकी इंचार्ज पर होगी।
  • सुबह के समय ऑफिस टाइम हो या शाम के समय स्कूल की छ्ट्टïी का समय हो। यदि इस समय सडक़ों पर जाम लगा तो उस क्षेत्र के चौकी इंचार्ज की जिम्मेदारी होगी।
  • चौकी इंचार्ज प्रतिदिन अपने क्षेत्र में पडऩे वाली गलियों में बाइक की चेकिंग करेंगे। श्री पांडेय के मुताबिक वाहन चेकिंग के दौरान सडक़ों पर पुलिस रहती है जबकि गलियों में
  • पुलिस के नहीं रहने से बाइक चालक बाइक लेकर फरार हो जाते हैं। चौकी इंचार्ज बाइक की चेकिंग कर 15 दिन पर क्षेत्राधिकारी के माध्यम से अपने कार्यों से अवगत करायेंगे।
  • चौकी इंचार्ज अपने क्षेत्र में मौजूद वांछितों की सूची 15 दिन के अंदर बनाकर उनकी गिरफ्तारी भी करना सुनिश्चित करेंगे।
  • चौकी इंचार्ज सुबह आठ बजे से लेकर दस बजे तक राजधानी में स्थित प्रॉपर्टी डीलरों के ऑफिस पर खड़ी वीआईपी वाहनों की चेकिंग करेंगे। चेकिंग के दौरान वाहनों में रखे हुये असलहों की जांच भी करेंगे।
  • क्षेत्र में मौजूद लुटेरे या अपराधियों का सत्यापन करेंगे तथा उनके बारे में हर गतिविधियों पर ध्यान रखेंगे।
Pin It