थप्पड़ खाकर कैसे मनाएं विजय दिवस!

मैंने कहा चलो छोड़ो पुरानी बातों को। हमारी सुषमा जी ने तो आज नवाज शरीफ को खरी-खरी सुना दी। बोला रामभरोसे डॉयलाग बोलने में पैसे तो लगते नहीं हैं। हमारी सरकार के नेता सिर्फ डॉयलाग बोलने में माहिर हैं। शहीद हेमराज के कटे सिर की दुहाई दे देकर चुनाव जीत लिया। सरकार बनी तो हेमराज का सिर कुर्सी के चक्कर में भूल गये।

sanjay sharma editor5रामभरोसे को मैंने सुबह-सुबह जगाया। कहा आज कितना शुभ दिन है। आज के दिन ही हमने कारिगल जीता था। देखो अपनी विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने नवाज शरीफ को कितनी खरी-खरी सुनायी है। साफ-साफ कह दिया है कि कितना भी बकवास कर लो मगरकश्मीर को लेकर जो सपने देख रहे वो इस जन्म में तो पूरे होने से रहे। खुशी से चमकते मेरे चेहरे को देखकर रामभरोसे बोला मालिक आप वास्तव में नासमझ हो या कुछ समझना नहीं चाहते। मैंने कहा ऐसा क्या तो बस एक सांस में शुरू हो गया रामभरोसे….
…बोला पहले बात कारगिल विजय की। मालिक आपके घर में कोई घुस आये। हमला करके घर के कुछ लोगों को मार दे। फिर उसको भगा भी दो तो इसमें विजय जैसी बात कहाँ। कारगिल हमारा इलाका था। पाकिस्तान के गुंडे तब वहां घुस आये थे जब हमारे प्रधानमंत्री शांति की अपील करने लाहौर गये थे। हमारे कई सैनिकों को उन्होंने मार दिया। अब अगर हमने उनको अपने इलाके से निकाल भी दिया तो इसमें विजय दिवस जैसी खुशी की बात क्या है?
मैंने कहा चलो छोड़ो पुरानी बातों को। हमारी सुषमा जी ने तो आज नवाज शरीफ को खरी-खरी सुना दी। बोला रामभरोसे डॉयलाग बोलने में पैसे तो लगते नहीं हैं। हमारी सरकार के नेता सिर्फ डॉयलाग बोलने में माहिर हैं। शहीद हेमराज के कटे सिर की दुहाई दे देकर चुनाव जीत लिया। सरकार बनी तो हेमराज का सिर कुर्सी के चक्कर में भूल गये।
हेमराज के सिर काटने वालों के सिर काटने जैसे बातें करने वालों ने अपने शपथ ग्रहण में उन्हीं लोगों को बुला लिया जो हेमराज का सिर काटने के लिए जिम्मेदार थे। एक बार भी नहीं सोचा कि इनको बुलाने पर हेमराज के घर वालों को कैसा लगेगा? हकीकत यह है कि इनका हेमराज से कोई लेना देना नहीं था। इन्हें तो हेमराज के बहाने कुर्सी चाहिए थी। जो मिल गई।
अपनी ही धुन में बोलता चला गया रामभरोस। बोला हद होती है, अपने स्वाभिमान को ताक पर रखने की। ग्यारह सालों से हमारा कोई पीएम पाक नहीं गया। पता नहीं हमारे मोदी जी को क्या सूझी जो लाहौर में हवाई जहाज उतार कर नवाज शरीफ को हैप्पी बर्थ डे कहने पहुंच गये। पूरी दुनिया को दिखा दिया कि हमारी हवा खराब होती है पाक से। मैंने टोकते हुए कहा कि ऐसा करने से प्यार बढ़ता है। विदेश नीति ठीक होती है। बोला रामभरोसे दिख रहा है कितना प्यार बढ़ रहा है। हमारे कश्मीर में हमारे कई जांबाज सैनिकों को मारकर एक आतंकवादी हमने मारा तो वहीं नवाज शरीफ अपने यहां काला दिवस मना रहे है, जिनको हमारे मोदी जी जन्मदिन की बधाई देने गये थे।..
…गुस्से से बोला रामभरोसे, मालिक डॉयलाग बहुत बोल लिये। अपने मोदी जी से कहिये कुछ काम करके दिखाये। मेरे पास उसकी बातों का कोई जवाब नहीं था… आपके पास हो तो बतायें।

Pin It