त्रिस्तरीय सामान्य निर्वाचन की समय सारिणी निर्धारित: जिलाधिकारी

  • प्रथम चरण में चिनहट व बीकेटी विकास खण्ड में होंगे चुनाव
  • 28 सितंबर से शुरू होगी पंचायत चुनाव में नामांकन की प्रक्रिया

Capture 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। जिला निर्वाचन अधिकारी राज शेखर ने त्रिस्तरीय सामान्य निर्वाचन 2015 के अंतर्गत जनपद के समस्त क्षेत्र पंचायत सदस्यों और जिला पंचायत सदस्यों के सामान्य निर्वाचन का कार्यक्रम घोषित कर दिया है। चुनावी आचार संहिता अधिसूचना जारी होने के साथ ही लागू हो गई है। जिले में प्रथम चरण के अंतर्गत चिनहट व बीकेटी ब्लाक में चुनाव होंगे, जिसकी तैयारी शुरू हो गई है। अब चुनाव सम्पन्न होने के बाद ही अधिसूचना समाप्त होगी।
जिलाधिकारी ने बताया कि जनपद में त्रिस्तरीय सामान्य निर्वाचन चार चरणों मे सम्पन्न कराया जायेगा। प्रथम चरण में विकास खण्ड चिनहट और बीकेटी में 28 एवं 29 सितम्बर को नामांकन होगा। 30 सितम्बर से 1 अक्टूबर तक नामांकन पत्रों की जांच की जायेगी। 3 अक्टूबर को नाम वापसी व चुनाव चिन्ह आवंटित किया जायेगा। इसके बाद 9 अक्टूबर को मतदान होगा। द्वितीय चरण के अन्तर्गत विकास खण्ड माल व मलिहाबाद में 1 अक्टूबर से 3 अक्टूबर तक नामांकन होगा। 4 अक्टूबर से 5 अक्टूबर तक नामांकन पत्रों की जांच की जायेगी और 6 अक्टूबर को नाम वापसी व चुनाव चिन्ह आवंटित किया जायेगा। इस क्षेत्र में 13 अक्टूबर को मतदान होगा। तृतीय चरण में विकास खण्ड काकोरी व सरोजनीनगर में 6 अक्टूबर से 7 अक्टूबर तक नामांकन होगा। 8 अक्टूबर से 9 अक्टूबर तक नामांकन पत्रों की जांच, 10 अक्टूबर को नाम वापसी व चुनाव चिन्ह आवंटन होगा। इसके बाद 17 अक्टूबर 2015 को मतदान होगा। इसी प्रकार चतुर्थ चरण के अन्तर्गत विकास खण्ड मोहनलालगंज व गोसाईगंज के 9 अक्टूबर से 10 अक्टूबर तक नामांकन होगा। 14 अक्टूबर से 15 अक्टूबर तक नामांकन पत्रों की जांच की जायेगी, 16 अक्टूबर को नाम वापसी व चुनाव चिन्ह आवंटन होगा। इसके बाद 29 अक्टूबर को मतदान होगा।जिला प्रशासन नामांकन और मतगणना के दौरान पारदर्शिता बनाये रखने और सुरक्षा व्यवस्था को चाक चौबंद करने की तैयारी में जुट गई है।
मतगणना स्थलों का निर्धारण
जिलाधिकारी ने बताया कि मतदान की प्रक्रिया सम्पन्न होने के बाद 1 नवम्बर 2015 को मतगणना की जायेगी। इसमें मतगणना स्थल का भी निर्धारण कर लिया गया है, जिसके अंतर्गत गोसाईगंज विकास खण्ड की मतगणना शिशु मन्दिर इण्टर कालेज गोसाईगंज में, चिनहट विकास खण्ड की मतगणना राजकीय पॉलीटेक्निक फैजाबाद रोड लखनऊ में, मोहनलालगंज विकास खण्ड की मतगणना नवजीवन इण्टर कालेज मोहनलालगंज में, सरोजनीनगर विकास खण्ड की मतगणना स्प्रिंग डेल इण्टर कालेज सेक्टर जी, एल.डी.ए कालोनी कानपुर रोड , मलिहाबाद विकास खण्ड की मतगणना महात्मा गांधी इण्टर कालेज मलिहाबाद में, माल विकास खण्ड की मतगणना वीरागंना उदा देवी इण्टर कालेज माल में, बीकेटी विकास खण्ड की मतगणना बक्शी का तालाब इण्टर कालेज बक्शी का तालाब में और काकोरी विकास खण्ड की मतगणना महात्मा ज्योतिबा राव फूले राजकीय स्वच्छकार आश्रम पद्धति इण्टर कालेज मोहान रोड काकोरी में की जायेगी

आचार संहिता का पालन करने के लिए कमेटी का गठन
त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दौरान आचार संहिता का पालन कराने और निगरानी के लिए कमेटी का गठन किया गया है। इसमें अपर जिलाधिकारी एवं अपर पुलिस अधीक्षक स्तर के अधिकारी के नेतृत्व में कमेटी का गठन किया गया है, जो आचार संहिता के उल्लंघन के मामलों को देखेंगे। आदर्श आचार संहिता के प्राविधानों को लागू करने के लिए उपजिलाधिकारी, सभी तहसीलदार, नायब तहसीलदार, थानाध्यक्ष के साथ उप टीमों के साथ नोडल टीमों का गठन किया जा रहा है। इसके लिए कलेक्ट्रेट में कन्ट्रोलरूम की स्थापना की गई है। अपर जिलाधिकारी प्रशासन एवं उप जिलाधिकारी राम नारायण यादव की देखरेख में कंट्रोल रूम काम करेगा। इसमें कंट्रोल रूम का फोन नंबर 0522-2611117, 2611118 है। इसके अलावा सोशल मीडिया सेन्टर का नम्बर 7572033333 व 7572044444 है, इन दोनों नंबरों पर निर्वाचन संबंधी शिकायतें दर्ज कराई जा सकती है। इन शिकायतों को 24 घंटे सुना जायेगा और 24 घंटे के अंदर निराकरण कराने का प्रयास किया जायेगा। यह कंट्रोल रूम 27 सितम्बर से काम करना शुरू कर देगा। इसके साथ ही चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने और मोहर्रम के अवसर पर पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था का प्रबंध भी किया जायेगा।

मतदान को पारदर्शी बनाने का प्रबंध
जिलाधिकारी के मुताबिक पंचायत निर्वाचन 2015 में नामांकन मतदान एवं मतगणना तक डिजिटल वीडियो कैमरे लगाये जायेगे। जिला पंचायत सदस्यों के नामांकन जिला मुख्यालय जिला पंचायत कार्यालय के सभा कक्ष में कराया जायेगा। क्षेत्र पंचायत सदस्यों का नामांकन क्षेत्र पंचायत मुख्यालय, विकास खण्ड कार्यालय पर सम्पन्न कराया जायेगा। उन्होने बताया कि मतगणना का कार्य क्षेत्र पंचायत के मतगणना केन्द्रों पर जिला पंचायत सदस्यों एवं क्षेत्र पंचायत सदस्यों की एक साथ करायी जायेगी।

Pin It