डिजिटल सीएम नंबर-1

समाजवादी अखिलेश ऐप ने लोकप्रियता के तोड़े रिकार्ड, लांच होने के कुछ समय के भीतर ही 3 लाख से अधिक लोगों ने किया लाइक
एक ऐप में दी गई पार्टी से जुड़ी सारी जानकारी, बताया गया कि पार्टी ने आम आदमी के लिए क्या-क्या किया

N1 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। अखिलेश यादव भली भांति जानते हैं कि आने वाले वक्त में सोशल मीडिया कितना महत्वपूर्ण रोल अदा करने जा रहा है। इंजीनियर अखिलेश अब खुद को और अपनी पार्टी को तैयार कर चुके हैं कि सोशल मीडिया का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल कैसे किया जा सकता है। इसी ख्याल के मद्देनजर सीएम अखिलेश यादव ने समाजवादी अखिलेश ऐप को लांच कर दिया। लांच होने के कुछ समय के भीतर ही 3 लाख से अधिक लोगों ने लाइक करके साबित कर दिया कि यह ऐप कितना लोकप्रिय है।
इसी ऐप में विस्तार से इस बात का जिक्र है कि किस तरह पार्टी आम लोगों के लिए काम कर रही है। ऐप में यह भी सुविधा है कि आप पार्टी के काम काज और कार्यक्रम के फोटो भी देख सकते हैं। मीडिया में आई खबरें भी ऐप में हैं। सीएम अखिलेश यादव की कोशिश थी कि ऐप में वह सारी जानकारी आ आए जिसकी जरूरत आम आदमी को पड़ती है।
सीएम अखिलेश यादव अच्छी तरह जानते हैं कि 2017 में सबसे ज्यादा वोटर युवा होंगे। उनकी रणनीति है कि विकास की ऐसी योजनाएं बनाई जाएं जो युवाओं को आकर्षित करें। अखिलेश यादव ने इसके लिए खास तरह से सोशल मीडिया पर फोकस किया है। इसी रणनीति के तहत मोबाइल ऐप लांच किया गया।
मुख्यमंत्री ने कहा आधुनिक दौर में जरूरी है कि पार्टी कार्यकर्ताओं को तकनीकी रूप से भी मजबूत करे। उन्होंने कहा कि इस ऐप के जरिए कार्यकर्ता अपने-अपने क्षेत्र की समस्याएं और जानकारी भी दे सकेंगे और उन्हें बता सकेंगे कि उनके इलाके में क्या-क्या परेशानी है। जाहिर है एक ऐप से पार्टी और खुद अखिलेश यादव करोड़ों कार्यकर्ताओं से सीधे जुड़ सकेंगे और कार्यकर्ताओं को भी प्रेरित करेंगे कि वह सोशल मीडिया का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करें।
ऐप में समाजवादी पार्टी से जुड़ी कई लघु फिल्में और योजनाओं की वीडियों भी डाली गई हैं। सीएम अब इस ऐप को फेसबुक और टिवट्र पर भी लोकप्रिय बनाने की योजनाओं में जुट गए हैं। अखिलेश यादव चाहते हैं कि एक साल के भीतर सोशल मीडिया पर उनकी पूरी टीम विस्तार से बताए कि उनकी सरकार ने विकास के कई ऐसे काम किए हैं जो उन्हें सर्वश्रेष्ठï मुख्यमंत्री साबित करते हैं। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे और मेट्रो का भी इस ऐप में और सोशल मीडिया में विशेष तौर पर उल्लेख करके बताया जाएगा कि सरकार किस तरह सिर्फ विकास की बात सोचती है।

अब तो हाईकोर्ट ने भी कहा खाइए मैगी

अब दो मिनट में फिर
तैयार होगी मैगी

लखनऊ। मैगी खाने वालों के लिए अच्छी खबर है। मुंबई हाईकोर्ट ने मैगी पर लगाया गया बैन हटा दिया है। अब देश भर में मैगी की बिक्री को हरी झंडी मिल गई है। हालांकि कोर्ट ने मैगी के नमूनों की जांच तीन लैब्स से कराने का आदेश भी दिया है।
मुंबई हाईकोर्ट ने नेस्ले कंपनी की मैगी की गुणवत्ता और प्रतिबंध के मामले में अपना अंतिम फैसला सुना दिया है। इसमें कंपनी को पुराना स्टॉक बेचने से मना कर दिया गया है लेकिन नये उत्पाद को तैयार करने और देश भर में बेचने की अनुमति दे दी है। टू मिनट्स नूडल्स के नाम से मशहूर मैगी के बुरे दिनों की शुरुआत मई में हुई थी। मई के आखिर में उत्तर प्रदेश से लिए गए मैगी के सैंपल में तय मात्रा से अधिक सीसा (लेड) पाए जाने के बाद पाबंदी लगी थी। इसके बाद देखते ही देखते एक के बाद एक कई राज्यों ने मैगी पर पाबंदी लगा दिया था। 5 जून को देश भर में मैगी पर प्रतिबंध लगा दिया गया। नेस्ले पर आरोप लगाया गया कि उत्पाद पर नो एडेड एमएसजी का लेबल लगाकर कर गुमराह किया गया है। मैगी ओट्स मसाला नूडल्स विद टेस्टमेकर की बिक्री बिना मंजूरी के की जा रही है। इस कारण बाजार से मैगी गायब हो गई। मैगी पर लगाये गये प्रतिबंध से कंपनी को तकरीबन 320 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। केंद्र सरकार ने मंगलवार को नेस्ले के खिलाफ अनुचित व्यापार व्यवहार में संलिप्त होने, गलत लेबलिंग और मैगी नूडल्स के संबंध में भ्रामक विज्ञापन दिखाने के कारण 640 करोड़ रुपए हर्जाने का मुकदमा भी दर्ज कराया था। मैगी को एफएसएस एआई द्वारा मान्यता प्राप्त सेंट्रल फूड टेक्नोलॉजिकल रिसर्च संस्थान सीएफटीआरआई ने देश के खाद्य सुरक्षा मानकों के अनुरूप पाया था। इसके बाद मैगी के अच्छे दिन वापस आने की संभावनायें बढ़ गई थीं। आखिरकार गुरुवार को मुंबई हाईकोर्ट ने मैगी पर लगा प्रतिबंध पूरी तरह से हटा दिया।

शेयर में 3.5 परसेंट का इजाफा
मुंबई हाईकोर्ट से मैगी पर लगा प्रतिबंध हटने की खबर मिलते ही शेयर मार्केट में नेस्ले के शेयरों में उछाल आ गया। डेढ़ महीने से लगातार घाटे में बिक रहे नेस्ले के शेयर खरीदने वालो की संख्या बढ़ गई। एनएसई में रिकार्ड किए गए आंकड़ों के मुताबिक कंपनी के शेयर में 3.5 परसेंट का इजाफा हुआ है। उम्मीद की जा रही है कि आने वाले दिनों में नेस्ले और उसके उत्पादों के शेयरों की बिक्री में और अधिक सुधार आएगा।

Pin It