ट्रांसफर में जुगाड़ लगाने वालों की मुश्किलें बढ़ीं

  • ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया के माध्यम से पारदर्शिता लाने की कोशिश में सरकार

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। यूपी में तीन साल बाद सरकारी टीचर्स का एक जिले से दूसरे जिलेे में ट्रांसफर करने की प्रक्रिया ऑनलाइन होने से जुगाड़ वालों की मुसीबतें बढ़ गई हैं। इसमें ऑनलाइन आवेदन पत्र के साथ शिक्षकों से पैन कार्ड की फोटोकापी भी मांगी गई है। इसलिए शिक्षकों में ट्रांसफर को लेकर उहापोह की स्थिति बनी हुई है।
बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव संजय सिन्हा ने बताया कि तीन साल बाद सरकार ने अंतर जनपदीय तबादलों के लिए आदेश जारी किया है। इसके लिए यूपी बेसिक एजूकेशन बोर्ड की वेबसाइट पर आज से ही ऑनलाइन आवेदन पत्र भरे जाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। तबादले से संबंधित आवेदन पत्र 15 जुलाई शाम 5 बजे तक जमा किए जा सकते हैं। ट्रांसफर की प्रक्रिया से 72 हजाार 825 ट्रेनी टीचर्स, 29 हजार 334 जूनियर शिक्षकों, 15 हजार शिक्षक भर्ती समेत एक लाख 30 हजार शिक्षामित्रों को दूर रखा गया है। फिलहाल ट्रांसफर के लिए आवेदन करने वाले आवेदकों को 5 जिलों की च्वाइस फार्म में भरनी होगी। ज्वाइनिंग डेट, प्रमोशन डिटेल, वेतन खाता संख्या, पैन नंबर सहित सभी जरूरी डिटेल भरनी होंगी। इसके बाद जगह पद खाली होंगे, वहां पोस्टिंग दी जायेगी। उन्होंने बताया कि राजधानी और कानपुर में रिक्त पद न होने के चलते यहां तैनाती नहीं दी जाएगी।

Pin It