झांसी में डॉक्टर दंपत्ति के मासूम बच्चे का अपहरण, 6 घंटे में बच्चा एमपी से बरामद

Capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। कल झांसी में उस समय सनसनी फैल गई जब शहर के मशहूर डॉक्टर अभय गुप्ता और रूबी गुप्ता के नर्सरी में पढऩे वाले 7 साल के बच्चे का अपहरण कर लिया गया। मगर इस अपहरण के बाद जिस तरह से झांसी पुलिस ने काम किया उसने लोगों के दिल में जगह बना दी। तीन दर्जन टीमों ने पूरी सक्रियता के साथ 6 घंटे के भीतर मध्य प्रदेश से बच्चे को सकुशल बरामद कर लिया। इस बच्चे के लिये दो करोड़ रुपये की फिरौती मांगी जा रही थी।
अपहरणकर्ताओं की गिरफ्तारी के बाद पता चला कि अपहरणकर्ता राघवेंद्र तिवारी ने डेढ़ महीना पहले ही डॉक्टर दंपत्ति की गाड़ी चलाना शुरू किया था। डॉक्टर परिवार की संपत्ति को देखकर वह समझ गया कि अगर इस बच्चे का अपहरण कर लिया गया तो आसानी से उसे डेढ़ से दो करोड़ रुपया मिल जायेगा। इसी साजिश के तहत उसने अपने एक साथी के साथ रानी लक्ष्मीबाई स्कूल से बच्चे का अपहरण कर लिया। जैसे ही पुलिस को यह सूचना मिली तो हडक़ंप मच गया। उस समय झांसी के एसएसपी सुभाष दुबे जिले की क्राइम मीटिंग ले रहे थे। उन्होंने तुरंत तीन दर्जन पुलिस टीमें बनाकर 21 थानों की पुलिस को तत्काल रणनीति बनाकर जुटाया और खुद इस ऑपरेशन की कमान संभाली। पुलिस की सक्रियता का नतीजा था कि 6 घंटे के भीतर पुलिस ने अपहरणकर्ताओं को गिरफ्तार करके बच्चे को सकुशल उसके घर पहुंचा दिया।ड्ढ

Pin It