जिन स्कूलों में सीसीटीवी लगे होंगे वही बनेंगे सेंटर

लखनऊ। हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की यूपी बोर्ड की सत्र 2015-16 की परीक्षा उन स्कूलों में होगी जहां सीसीटीवी कैमरे लगे होंगे। इस बार नकल रोकने के लिए परीक्षा तीसरी आंख की निगरानी में करायी जाएगी। जिलाधिकारी राजशेखर की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया कि वर्ष 2016 की बोर्ड परीक्षा में केवल उन्हीं कॉलेजों को केंद्र बनाया जाएगा जो सीसीटीवी कैमरे लगवाएंगे। इतना ही नहीं जिला परीक्षा समिति की बैठक में इस बात को भी सख्ती से रखा गया कि जिन स्कूलों में फर्जी पंजीकरण के मामले सामने आए हैं उनको किसी भी सूरत में परीक्षा केंद्र नहीं बनाया जाए। लेकिन कल हुई बैठक में भी परीक्षा केंद्रों की सूची जारी नहीं हो पाई।
माध्यमिक शिक्षा परिषद ने 15 अक्टूबर को जारी केंद्र नीति में कहा था कि 18 अक्टूबर तक जिला समिति को परीक्षा केंद्र निर्धारित करके 25 अक्टूबर तक उनके प्रकाशन की तारीख सुनिश्चित करनी थी लेकिन ऐसा हो नहीं सका। इस साल यूपी बोर्ड परीक्षा में राजधानी से 1,07921 परीक्षार्थी पंजीकृत हैं। परीक्षा केंद्रों का निर्धारण न हो पाने की सबसे बड़ी वजह स्थलीय निरीक्षण न हो पाना है। जिला विद्यालय निरीक्षक उमेश कुमार त्रिपाठी ने बताया कि डीएम के निर्देश पर उन्होंने सभी एसडीएम को पत्र भेजकर परीक्षा केंद्र बनाए जाने वाले स्कूलों का स्थलीय निरीक्षण कर डीएम को रिपोर्ट देने के लिए कहा था।

Pin It