जयंती पर चौ. चरण सिंह को राज्यपाल व मुख्यमंत्री ने किया नमन

रालोद के प्रदेश कार्यालय पर हुआ हवन-पूजन, सूबे में मनाया जायेगा किसान सप्ताह

capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और राज्यपाल राम नाईक ने आज सुबह विधान भवन पहुंचकर चौ. चरण सिंह की मूर्ति पर माल्यार्पण कर नमन किया। मुख्यमंत्री ने चरण सिंह को किसानों और गरीबों का मसीहा बताया। जनता से उनके विचारों को जीवन में अपनाने की अपील की। वहीं राज्यपाल राम नाईक ने कहा कि चरण सिंह को अच्छी तरह पता था कि किसान देश के अर्थव्यस्था की रीढ़ हैं। वह खुद भी किसान थे, इसलिए उनकी समस्याओं को अच्छी तरह समझते थे। इसलिए आज युवाओं को चरण सिंह के विचारों से प्रेरणा लेकर किसानों और गरीबों के हितों में काम करना चाहिए। वहीं राष्टï्रीय लोकदल ने अपने नेता और किसानों के मसीहा कहे जाने वाले चौधरी चरण सिंह का जन्मदिन पूरे प्रदेश में भव्य तरीके से मनाया।
रालोद प्रदेश कार्यालय पर चरण सिंह के जन्मदिन पर हवन पूजन कर उनकी नीतियों पर चलने का संकल्प लिया गया। पार्टी ने चौधरी के जन्मदिन को प्रदेश भर में किसान सप्ताह के रूप में मनाने का निर्णय लिया है। वहीं विधानसभा में लगी चरण सिंह की मूर्ति पर माल्यार्पण करने की अनुमति न मिलने पर रालोद कार्यकर्ताओं और पुलिस कर्मियों के बीच धक्का-मुक्की भी हुई। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष डॉ. मसूद अहमद ने बताया कि 31 दिसंबर तक किसानों के मसीहा के जन्म दिन को किसान सप्ताह के रूप में मनाया जाएगा। उन्होंने प्रदेश के समस्त जिलाध्यक्षों को पत्र भेजकर चौ. चरण सिंह की नीतियों को जन-जन तक पहुंचाने में सक्रिय भूमिका निभाने की अपील की है। गौरतलब है कि देश के पूर्व प्रधानमंत्री स्व. चौधरी चरण सिंह के जन्मदिन पर देशभर में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इसमें लोगों ने देश के लिए चौधरी जी के महान कार्यों और उनकी कुर्बानी को याद किया। इस अवसर पर प्रदेश कार्यालय में विधि विधान से हवन-पूजन किया गया। जबकि प्रदेश के अन्य सभी जिलों में भी चरण सिंह की जयंती मनाई गई।

Pin It