जनसैलाब को देखकर गदगद मोदी ने कहा देश तभी बढ़ेगा जब यूपी बढ़ेगा

प्रदेश से लाखों लोग पहुंचे थे लखनऊ रैली में जिधर देखो उधर सिर ही सिर आ रहे थे नजर

सबको थी उम्मीद जनधन खातों में कुछ पैसे डालने की बात कहेंगे पीएम
अप्रत्याशित रूप से मोदी ने नोटबंदी के लाभ पर नहीं बोला कुछ और
न ही यूपी के पैकेज की बात की लोगों को आशा थी कि मोदी करेंगे कुछ चुनावी घोषणाएं और दो दिन
बाद लग जाएगी आचार संहिता आज के भाषण से संकेत कि चुनाव नहीं होंगे अभी

t6fg1 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज जो भाषण दिया उसकी उम्मीद किसी को नहीं थी। गांवों और सूबे की राजधानी में यही चर्चा थी कि मोदी अपने भाषण में चुनाव में भाजपा को बढ़त दिलाने के लिए जनधन खातों में पैसे डालने जैसी कुछ घोषणाएं करेंगे और उसके बाद ही चुनाव की तिथि घोषित होगी, मगर आज के भाषण में ऐसा कुछ नहीं हुआ।
राजधानी के रमाबाई अंबेडकर मैदान पर आयोजित परिवर्तन महारैली से प्रधानमंत्री ने विधानसभा चुनाव का बिगुल फूंकते हुए विपक्षियों पर चुन-चुन कर वार किए। मोदी ने कालेधन और भ्रष्टïाचार का जिक्र किया। उन्होंने प्रदेश की जनता से भाजपा को वोट देने की भी अपील की। प्रधानमंत्री मोदी ने बसपा और सपा का नाम लिए बिना कहा कि एक दल अपना धन ठिकाने लगाने में जुटा है तो दूसरा दल परिवार का क्या होगा इस चिंता में परेशान है। उन्होंने कहा कि देश को आगे बढ़ाना है तो यूपी को आगे बढऩा होगा। यूपी का चुनाव परिणाम किस दिशा में जाएगा ऐसा हिसाब-किताब करने वाले राजनीतिक पंडितों को भी यह भीड़ देखकर आकलन करने में आसानी हो जाएगी। उन्होंने कहा कि पूर्व भाजपा सरकारों को आज भी प्रदेश की जनता याद करती है। भाजपा का 14 साल का वनवास खत्म होगा। 14 साल से उत्तर प्रदेश में विकास नहीं हुआ। लोग धर्म और जाति से ऊपर उठकर वोट दें। उन्होंने कहा कि मेरी सोच हिंदुस्तान के संदर्भ में हैं। हम चाहते हैं कि देश आगे बढ़े। यहां से गरीबी मिटे। यह सपना तब तक नहीं पूरा होगा जब तक उत्तर प्रदेश का विकास नहीं होगा। हिंदुस्तान का भाग्य बदलने के लिए हमें उत्तर प्रदेश का भाग्य बदलना होगा। यूपी के लोग राजनीतिक दृष्टिï से समझ रखने वाले हैं। जात-पात से ऊपर उठकर यूपी में विकास के लिए वोट करें।
इससे पहले भाजपा के राष्टï्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि परिवर्तन यात्रा ने पूरे प्रदेश में जो शंखनाद किया है, उससे यूपी में भाजपा की दो तिहाई बहुमत से सरकार बनेगी। विपक्ष पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि बुआ-भतीजे उत्तर प्रदेश का भला नहीं कर सकते। यूपी को उत्तम बनाने के लिए बीजेपी सरकार चाहिए। परिवर्तन शब्द उत्तर प्रदेश की स्थिति को बदलेगा।
भाजपा उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाएगी। इस बार विकास करने वाली सरकार बनेगी। भाजपा शासित राज्यों में 24 घंटे बिजली मिल रही है। युवाओं को यूपी में रोजगार नहीं मिल रहा है। यूपी में गुंडाराज चल रहा है, जिससे जनता परेशान है। हमने यहां कल्याण सिंह व राजनाथ सिंह का अच्छा शासन दिया। मोदी सरकार पर एक भी भ्रष्टïाचार का आरोप नहीं। मेरे लिए चाचा-भतीजा चुनावी मुद्दा नहीं है। सपा में नाटक चल रहा है।
केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि नोटबंदी का फैसला राष्टï्रहित में लिया गया ऐतिहासिक फैसला है। कैबिनेट की पहली बैठक में मोदी ने कालेधन के खिलाफ काम शुरू कर दिया था। सपा बसपा व कांग्रेस ने गैस, राशन और मिट्टïी के तेल के लिए लाइन लगवाई है। भाजपा ने ऐसी कतार को खत्म किया है। पुलिस की भर्ती में धांधली की गई। भाजपा सत्ता नहीं व्यवस्था परिवर्तन चाहती है। सपा में दंगल चल रहा है। जनता को किसी का दंगल नहीं मंगल चाहिए। गौरतलब है कि आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए भाजपा ने पूरे सूबे से 4 परिवर्तन यात्रायें निकाली थी, जिन्हें पूरे प्रदेश से होते हुए समापन के लिए 24 दिसंबर को लखनऊ पहुंचना था। इसका समापन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को करना था, लेकिन इस कार्यक्रम को 24 दिसंबर की जगह 2 जनवरी कर दिया गया। 24 दिसंबर को गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने परिवर्तन यात्राओं का समापन किया था। यूपी के भाजपा प्रभारी ओम माथुर ने कहा कि हमारी लड़ाई सपा से नहीं है। पूरा लखनऊ मोदीमय है। हमें यूपी को बसपा-सपा मुक्त बनाना है। इस महारैली में विशाल जनसमूह मौजूद रहा। भाजपा ने इस रैली में करीब दस लाख लोगों के शिरकत करने का दावा किया है। आयोजन स्थल और आसपास के क्षेत्र पोस्टरों व बैनरों से अटे रहे। इस मौके पर भाजपा के राष्टï्रीय अध्यक्ष अमित शाह, योगी आदित्यनाथ, मेनका गांधी,उमा भारती, कलराज मिश्र, केशव प्रसाद मौर्य,सुनील बंसल, डॉ. दिनेश शर्मा और रीता जोशी समेत कई नेता मौजूद रहे।

नोटबंदी को लेकर आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जताया विरोध, दिखाए काले झंडे

आम आदमी पार्टी ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लखनऊ आगमन के विरोध में जमकर विरोध प्रदर्शन किया। हजारों की संख्या में आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता राजधानी के सडक़ों पर उतर पड़े। कार्यकर्ता नोटबंदी और अन्य मुद्दों को लेकर प्रधानमंत्री का विरोध कर रहे थे। कार्यकर्ताओं ने मोदी वापस जाओ के नारे लगाए और काले झंडे दिखाए।

पोस्टर-बैनर में नहीं दिखे अटल बिहारी वाजपेयी

रमाबाई अंबेडकर मैदान में होने वाली इस महारैली के मंच पर पीएम मोदी, अमित शाह, राजनाथ सिंह, कलराज मिश्र सहित उमा भारती की तस्वीरों को जगह दी गई है। लेकिन हैरत की बात यह है कि रैली के लिए लगाए गए पोस्टरों-बैनरों में पूर्व प्रधानमंत्री और पार्टी के वरिष्ठ भाजपा नेता अटल बिहारी वाजपेयी को जगह नहीं दी है। गौरतलब है कि अटल बिहारी वाजपेयी लखनऊ से पार्टी के सांसद भी रहे हैं। चुनावी मंच पर भी अटल की तस्वीर नहीं लगी है। मंच के ओर एक ओर पीएम मोदी और दूसरी ओर पार्टी अध्यक्ष अमित शाह की तस्वीर लगी है। हालांकि प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या ने कहा है कि सीमित स्थान होने के बावजूद कई स्थानों पर अटल जी की तस्वीर लगाई गई है।

 

Pin It