छुट्टी होगी राजा भइया की…

राजा भइया को शुरू से मंत्रिमंडल में नहीं लेना चाहते थे अखिलेश
कुंडा में 2 मार्च 2013 को तीन लोगों को खुलेआम मार दिया गया था

Y14पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। बाहुबली मंत्री राजा भइया की मंत्रिमंडल से विदाई की चर्चाए जोर पकडऩे लगी हैं। सीओ जियाउल ह$क हत्याकांड में जिस तरह सीबीआई की विशेष अदालत ने राजा भैया और उनके साथियों को इस हत्या के लिए प्रथम दृष्टया दोषी माना है उसके बाद राजा भइया मंत्री रह पायेंगे इसकी उम्मीद अब कम ही है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव राजा भैया को शुरू से मंत्रिमंडल में नहीं लेना चाहते थे। अब सीबीआई की विशेष अदालत के इस आदेश के बाद अगर राजा भैया की कुर्सी बरकरार रहती है तो विपक्ष सरकार पर जोरदार हमला बोलेगा। सरकार के सामने सबसे बड़ी मुसीबत यह है कि प्रतापगढ़ में हुए इस हत्याकांड को लेकर मुस्लिमों में बहुत नाराजगी है। अब जब सीबीआई की अदालत ही सीबीआई द्वारा राजा भैया को दी गई क्लीन चिट पर सवाल उठा रही है तो राजा भइया की कुर्सी बचनी मुश्किल ही लग रही है।
कुंडा में 2 मार्च 2013 को तीन लोगों को खुलेआम मार दिया गया था। बलीपुर के प्रधान नन्हे यादव की हत्या के बाद मौके पर पहुंचे इलाके के सीओ जियाउल हक़ के साथ प्रधान नन्हे के भाई सुरेश यादव की भी हत्या कर दी गई। इस हत्या के बाद सीओ की पत्नी ने आरोप लगाया था कि राजा भइया के इशारे पर ही उनके पति की हत्या हुई है। इस बयान के बाद पूरे प्रदेश में हंगामा मच गया था। इस हत्या से खास तौर से अल्पसंख्यक समुदाय के लोग बहुत नाराज थे। सरकार के पास सीबीआई जांच के अलावा और कोई विकल्प ही नहीं बचा था। हालांकि सीबीआई जांच में राजा भइया और उनके सहयोगियों का कोई हाथ इस हत्याकांड में साबित नहीं हुआ था। जांच रिपोर्ट आने के बाद
राजा भइया मंत्री बनने के लिए दबाव डालने लगे। मुख्यमंत्री उन्हें दोबारा मंत्री नहीं बनाना चाहते थे। इसी बीच राजा समर्थकों ने यह चर्चा फैलाई कि राजा अपने कई दर्जन क्षत्रिय समर्थकों के साथ राजनाथ सिंह से मिल कर बीजेपी में जाने की रणनीति बना रहे हैं। ऐसे में सपा मुखिया मुलायम सिंह ने राजा भइया को मंत्री बनाने का फैसला कर दिया।
अब जब एक बार फिर सीबीआई की विशेष अदालत के जज मनोज कुमार ने कहा है कि इन दस्तावेजों को देखने से ही लगता है कि राजा भइया और उसके गुर्गों ने सुरेश यादव और उसके साथियों की हत्या की साजिश रची तो अब इस बात की उम्मीद कम ही है कि राजा भइया की कुर्सी बची रहेगी।

बीजेपी का न्यायपालिका में पूर्ण विश्वास है। सपा सरकार में मंत्रियों का दागी होना नई बात नहीं है। सरकार को तत्काल राजा भइया को बर्खास्त कर जनता को अच्छा संदेश देना चाहिए।
डॉ. चन्द्रमोहन
( प्रवक्ता बीजेपी )

सीबीआई कोर्ट ने राजा भइया के मामले की क्लोजर रिपोर्ट खारिज कर दी है। सरकार को नैतिकता के आधार पर राजा भइया को बर्खास्त कर देना चाहिए ।
अशोक सिंह, ( सदस्य आल
इंडिया कांग्रेस कमेटी )

फैसले से न्याय की आस जगी है। अब निष्पक्ष जांच होगी सच सामने आएगा।
स्वामी प्रसाद मौर्या
(नेता प्रतिपक्ष, बीएसपी )

आज के कार्यक्रम से बदलेगा काशी का भाग्य: मोदीड्ढ

9 महीने बाद अपने संसदीय क्षेत्र पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी
राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने गर्मजोशी से किया पीएम का स्वागत
602 परिवारों को बांटे गए जन धन योजना का चेक, गरीबों में बांटे गए 501 पैडल रिक्शा और 101 रिक्शा

वाराणसी : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज अपने वाराणसी दौरे में मल्टीपरपज ग्राउंड में लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आज यहां जो कार्यक्रम हो रहा है, इससे सिर्फ कुछ गरीब परिवारों का जीवन बदलेगा ऐसा नहीं है। इस कार्यक्रम से काशी का भाग्य बदलेगा। यहां के गरीब के जीवन में अगर हम थोड़ा सा आवश्यक बदलाव कर दें और तकनीक की मदद लें ले तो गरीबों के जीवन में ेंसुखद बदलाव आएगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि योजनाओं के जरिए गरीबों को आत्मनिर्भर बनाने की कोशिश की गई है। उन्होंने कहा कि शिक्षा के जरिए ही गरीबों की दशा सुधर सकती है। उन्होंने लोगों से बच्चों हर हाल में पढ़ाने की अपील की।
उन्होंने कहा कि बैंकों के राष्टï्रीयकरण के बावजूद गरीबों के लिए इसके दरवाजे नहीं खुले थे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जनधन योजना के जरिए गरीब बैंकों के दरवाजे तक पहुंचे। सरकार ने तो कहा कि जीरो बैलेंस पर खाते खोले जाएंगे, लेकिन गरीबों ने करीब 30 हजार करोड़ रुपये खातों में जमा करवाए। हम करीब-करीब 50 साल से ‘गरीबी हटाओ’ जैसे नारे सुनते आए है। हमारे देश में चुनावों में भी गरीबों का कल्याण करने वाले भाषण सुनने को मिलता है। राजनीति करते समय सुबह शाम गरीबों की माला जपते रहना एक परंपरा बन गई है। इस परंपरा से बाहर आने की जरूरत है। हृउन्होंने कहा कि गरीब की जिदंगी में जितनी तेजी से बदलाव आना चाहिए था उतनी तेजी से बदलाव आया नहीं है। गरीबी से मुक्ति का अभियान चलाना है। हृइस अवसर पर प्रधानमंत्री ने कुछ परिवारों को जनधन योजना का चेक वितरित किया। इसके अलावा इस कार्यक्रम में ई-रिक्शा और पैडल रिक्शा भी वितरित किया गया। मौके पर प्रधानमंत्री ने कुछ रिक्शा चालकों से बातचीत कर उनकी स्थिति के बारे में जानकारी ली। इसके पहले जब प्रधानमंत्री मंत्री बाबतपुर एयरपोर्ट पर पुहंचे तो यूपी के गवर्नर राम नाईक और सीएम अखिलेश यादव ने उनका स्वागत किया। आज मोदी अपने संसदीय क्षेत्र में एक दिवसीय दौरे पर है। इसके अलावा प्रधानमंत्री मोदी आज बीएचयू ट्रॉमा सेंटर का उद्घाटन करने के साथ ही तमाम योजनाओं का शुभारंभ करेंगे। इसके बाद पीएम मोदी डीएलडब्ल्यू गेस्टहाउस में शहर के कुछ खास लोगों से मुलाकात करने वाले हैं। वहीं, शिक्षामित्रों से भी उनके मिलने का प्रोग्राम है।

Pin It