छावनी में तबदील हुआ एलयू का न्यू कैंपस

  • देर रात छात्र करते रहे हंगामा, छह थानों की पुलिस व पीएसी ने किया काबू
  • दोषियों पर कार्रवाई व एफआईआर के कड़े निर्देश

Capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लखनऊ विश्वविद्यालय के न्यू कैंपस में गुरुवार को छात्र व कैंटीन संचालक के बीच कोल्ड ड्रिंक की बोतल को लेकर जमकर हंगामा हुआ। इस घटना में दर्जन भर छात्र, एडीशनल प्रॉक्टर घायल हो गए। देर रात तक चले हंगामें पर काबू पाने के लिए छह थानों से पुलिस व पीएसी को मौके पर बुलाया गया। रात के हंगामें को देखते हुए कैंपस में पीएसी तैनात कर दी गई है। कैंटीन संचालक के खिलाफ प्रॉक्टोरियल टीम ने विवि प्रशासन से कार्रवाई के तौर पर कैंटीन बंद कराने की मांग की है।
एलयू के न्यू कैंपस में चल रही कैंटीन में कल शाम छात्रों के बीच जमकर बवाल हुआ था। मालूम हो कि एलयू न्यू कैम्पस में गुरुवार को शाम 5:30 बजे लॉ की परीक्षा पर खत्म के बाद छात्र अंकित कटियार और नितेश तिवारी कैंटीन में कोल्ड ड्रिंक पीने गये थे। अंकित ने कोल्ड ड्रिंक पीकर खाली बोतल फोटो स्टेट मशीन पर रख दी। इसको लेकर कैंटीन संचालक सुभाष और छात्रा के बीच कहासुनी होने लगी। कहासुनी के बीच सुभाष ने कोल्ड ड्रिंक की बोतल अंकित के सिर पर दे मारी। बीच-बचाव करने पर नितेश को भी पीटा। दोनों किसी तरह वहां से बाहर निकले। साथी की ऐसी स्थिति को देख लॉ के अन्य छात्रों ने कैंटीन में जमकर हंगामा किया। लॉ छात्रों को आता देख कैंटीन संचालक सुभाष आईएमएस हॉस्टल से छात्रों को बुला लाया। दोनों छात्र गुट आपस में भिड़ गए। पहले आईएमएस के छात्रों ने लॉ स्टूडेंट्स के हॉस्टल में धावा बोलकर मारपीट व तोडफ़ोड़ की तो लॉ के स्टूडेंट्स ने भी आईएमएस हॉस्टल में जमकर उत्पात मचाया। दोनों गुटों के छात्रों द्वारा किए गये पथराव व मारपीट में छह बाइक और कई बेंचें टूट गईं। पत्थर लगने से दर्जन भर छात्र चोटिल भी हो गए हैं। हंगामें की सूचना पाकर स्थानीय पुलिस कैंपस पंहुची लेकिन छात्रों के उग्ररूप को देखकर कार्रवाई करने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे थे। फिर अन्य थानों में फोन कर पुलिस को बुलाया गया। एएसपी टीजी आस-पास के कई थानों की फोर्स और पीएसी के साथ मौके पर पहुंचे लाठी चार्ज कर छात्रों को खदेड़ा। काफी देर बाद हालात पर काबू पाया गया।

चीफ प्रॉक्टर निशि पांडेय ने बताया की सुभाष एलयू के न्यू कैम्पस का ही चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी है। वह कैंटीन भी चलाता है और आईएमएस हॉस्टल में ही रहता है। इससे पहले भी कैंटीन बंद करवाने को लेकर कई बार विवि प्रशासन को पत्र भेजा गया था। अब तक कार्रवाई नहीं की गई। उन्होंने न्यू कैम्पस की एडीशनल प्रॉक्टर अनुपमा को कैंटीन बंद करवाने और सुभाष के खिलाफ एफआईआर लिखाने का निर्देश दिया है। वहीं दोषी छात्रों की पहचान कर उन पर भी कार्रवाई करने के सख्त निर्देश दिए हैं।

Pin It