छात्र संगठनों ने कुलपति का किया घेराव

Capture
लखनऊ। लखनऊ विश्वविद्यालय में सभी छात्र संगठनों ने मिलकर कुलपति का घेराव कर छात्रसंघ को बहाल करने की मांग की, जिस पर कुलपति ने छात्रों को आश्वासन दिया कि दस दिन के भीतर उचित निर्णय कर बताया जाएगा।
विश्वविद्यालय में छात्रसंघ एक अहम हिस्सा माना जाता है लेकिन कई सालों से छात्रसंघ पर लगी रोक के विरोध में विवि के सभी छात्र संगठनों ने बुधवार को कुलपति का घेराव किया और छात्रसंघ को बहाल करने की मांग की है। छात्रों का कहना है कि छात्रसंघ के कारण कई ऐसी समस्याएं हैं जिन्हें संगठनों के कार्यकर्ता अपने स्तर पर सुलझा लेते हैं। छात्रों के खिलाफ विवि प्रशासन गलत करता है तो छात्र संगठन उसका विरोध करते हैं। अकेले छात्र कुछ नहीं कर पाते। विवि में प्रवेश प्रक्रिया को ही ले लिया जाए जिसमें हो रही धांधली को छात्र संगठनों ने ही उजागर किया था, जिससे बहुत से छात्रों का भविष्य खराब होने से बचा है। छात्र नेताओं ने कहा कि विश्वविद्यालय में बहुत सी ऐसी समस्याएं होती है जिससे प्रशासन के जानने से पहले ही संगठनों द्वारा उसका निवारण कर दिया जाता है। छात्र संगठनों ने कुलपति से अपनी मांगों के पूरा करने की मांग की जिस पर कुलपति ने दस दिन के भीतर उचित निणर्य लेने का आश्वासन दिया है।

जांच के लिए प्रयोगशाला भेजे गये तीन नमूने

लखनऊ। खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन (एफएसडीए) अनुभाग की खाद्य सुरक्षा ईकाई ने अलीगंज और कैसरबाग क्षेत्र में छापा मारकर नमकीन और कोल्ड ड्रिंक के तीन नमूने भरे। इन नमूनों को जांच के लिए प्रयोगशाला भेज दिया गया है।
मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी एसपी सिंह के मुताबिक खाद्य सुरक्षा में मिलावट को लेकर प्रशासन अत्यंत गंभीर है। इस कारण समय-समय पर छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है। इसके साथ ही जनता की तरफ से खाद्य पदार्थों से मिलावट संबंधी शिकायतों के आधार पर भी कार्रवाई का जा रही है। इसी प्रक्रिया के तहत बुधवार को अलीगंज के पांडे टोला में श्याम नमकीन एंड बेकर्स के यहां छापा मारा गया। वहां से मद्रासी नमकीन और नवरंग नमकीन का नमूना जांच के लिए भरा गया। यहां टीम ने खाद्य पदार्थों के रखरखाव और बनाने की प्रक्रिया का भी निरीक्षण किया। इसके बाद यूनिट में खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता में सुधार की रिपोर्ट बनाकर प्रशासन को सौंप दी गई है। इसी प्रकार बेगम हजरत महल पार्क के पीछे लकी रेस्टोरेंट में भी छापा मारा गया। वहां से थम्सअप का नमूना जांच के लिए भरा गया है। इस प्रकार टीम ने नमकीन का दो और कोल्ड ड्रिंक का एक नमूना भरा। इन सभी नमूनों को जांच के लिए प्रयोगशाला भेज दिया गया है। इसकी रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी।

Pin It