घोड़े पर हमला करने वाले बीजेपी विधायक गणेश जोशी गिरफ्तार

Captureदेहरादून। राजधानी देहरादून में बीते सोमवार को विधानसभा के बाहर प्रदर्शन के दौरान पुलिस के घोड़े पर हमला कर उसे लहूलुहान करने वाले विधायक गणेश जोशी को पुलिस ने आज अरेस्ट कर लिया है। गौरतलब है कि गुरुवार की शाम घोड़े शक्तिमान के जख्मी पैर को काटना पड़ा जिसके बाद उसे कृत्रिम पैर लगाया गया। पुणे से आए डॉक्टरों की टीम ने फैसला लिया था कि घोड़े की जान बचाने के लिए उसके पिछले पैर को काटना ही पड़ेगा।

दरअसल देहरादून विधानसभा का घेराव करने पहुंचे बीजेपी कार्यकर्ताओं को जब रोकने की कोशिश की गई तो, विधायक गणेश जोशी पुलिस के घोड़े पर ही बरस पड़े। उन्होंने घोड़े को लाठी से पीट कर लहूलुहान कर दिया। बीजेपी विधायक की ओर से किए गए हमले में घायल घोड़े शक्तिमान को पैर गंवाना पड़ा।

आरोप साबित हुआ तो कटवा दूंगा अपना पैर
वहीं बीजेपी विधायक गणेश जोशी ने अपने बचाव में कहा था कि अगर उन पर लगे आरोप साबित हो गए, तो उनके पैर काट दिए जाएं। उन्होंने कहा, कि अगर मैं दोषी पाया गया तो हर सजा के लिए तैयार हूं। बुधवार को बीजेपी एमएलए का बयान तब आया, जब उनके खिलाफ पुलिस ने प्रिवेंशन ऑफ एनिमल क्रुअल्टी एक्ट के तहत केस दर्ज किया।

विधायक को पांच साल की हो सजा: पेटा एक्टिविस्ट
विधायक की गिरफ्तारी के बाद से ही विधायक के खिलाफ तमाम तरह के बयान आ रहे हैं। इसी दौरान पेटा एक्टिविस्ट ने कहा है कि विधायक को इस कार्य के लिये पांच साल की सजा होनी चाहिये। उसने एक बेजुबान जानवार के साथ जैसा घृणित कार्य किया है उसके लिये यह सजा भी कम है।

मेरे पिता को जानबूझ कर फंसाया गया
विधायक गणेश जाशी के बेटी ने इस मामले पर कहा है कि मेरे पिता को फंसाया जा रहा है। उन्होंने घोड़े के साथ कुछ भी ऐसा नहीं किया। यह सब राजनीतिक षडयंत्र है।

Pin It