घर में घुसकर युवक की हत्या

  • रिपोर्ट दर्ज, पुलिस को नहीं मिला हत्यारों का सुराग

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राजधानी के हसनगंज थाना क्षेत्र में मंगलवार को बदमाशों ने घर में घुसकर एक युवक की हत्या कर दी, जिसकी सूचना युवक के साथी कर्मचारी ने पुलिस को दी। पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है और मामले की जांच कर रही है। फिलहाल कातिलों का सुराग नहीं मिल सका है।
जानकारी के अनुसार मूलरूप से पारा थाना क्षेत्र के बुद्धेश्वर कॉलोनी निवासी जितेंद्र यादव (30) लक्ष्मी इंटरप्राइजेज कंपनी में काम करता था। वह हसनगंज के शिव नगर खदरा में आरपी वर्मा के मकान में पत्नी सविता और 4 साल की बेटी शगुन के साथ रहता था। निगोहां निवासी मृतक के ममेरे भाई अजय का शादी समारोह था, जिसके चलते तीन दिन पहले मृतक की पत्नी वहां चली गई थी और मंगलवार को जितेंद्र को भी जाना था। मंगलवार दोपहर पत्नी सविता ने जितेंद्र के नंबर पर कॉल किया तो फोन नहीं उठा। इस पर उसने जितेंद्र के ऑफिस में फोन किया। वहां से पता चला कि जितेंद्र ऑफिस आया ही नहीं है। इस पर सविता ने जितेंद्र के साथी कर्मचारी जमील से पता करने के लिए कहा। जमील जब घर पहुंचा तो वहां ताला लगा था। जमील ने बताया कि जितेंद्र ने घर के पिछले हिस्से में स्टोर बना रखा था और इमरजेंसी के लिए एक चाभी कार्यालय में भी रहती थी। जमील वह चाभी लेकर आया और दरवाजा खोला। दरवाजा खुलने पर उसने देखा की जितेंद्र के ऊपर लिहाफ पड़ा हुआ है। लिहाफ हटाते ही जमील के होश उड़ गए। जितेंद्र का चेहरा ईंट से कूंचा गया था और शरीर पर भी कई जगह चोट के निशान थे। जमील ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। प्रभारी हसनगंज ने बताया कि हत्या के कारण स्पष्ट नहीं हो पाए हैं। परिजनों से बातचीत कर हत्यारों की तलाश की जा रही है। प्रभारी हसनगंज ने बताया कि घर का दरवाजा बाहर से बंद था और ताला लगा हुआ था। घर में किसी प्रकार की कोई लूटपाट नहीं हुई है और घर के अंदर मेन गेट छोडक़र आने का कोई दूसरा रास्ता भी नहीं है। इससे यह स्पष्ट होता है कि हत्या को अंजाम किसी करीबी ने ही दिया होगा।

Pin It