गृहमंत्री राजनाथ का आवास घेरने जा रहे युवा कांग्रेसियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

पुलिस ने किया वाटर कैनन का प्रयोग, कार्यकर्ताओं और पुलिस में हुई तीखी झड़प

यूथ कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार पर लगाये गंभीर आरोप

4Captureपीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। महंगाई और भ्रष्टïाचार को लेकर युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह के आवास को घेरने का आह्वïान किया था। इसको लेकर आज सुबह से ही सैकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ता प्रदेश कांग्रेस कार्यालय पर एकत्रित होने शुरू हो गये थे। प्रदेश कांग्रेस कार्यालय के बाहर पुलिस ने भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं को रोकने के लिये बैरीकेडिंग लगा दी थी। कांग्रेस कार्यकर्ता जैसे ही प्रदेश कार्यालय के बाहर निकले उनकी पुलिस से झड़प हो गई। कांग्रेसी कार्यकर्ता बैरीकेडिंग पर चढक़र नारेबाजी करने लगे। इन्हें रोकने के लिये पुलिस को वाटर कैनन का इस्तेमाल करना पड़ा।
उत्तर प्रदेश युवा कांग्रेस द्वारा भ्रष्टïाचार और महंगाई के मुद्ïदे को लेकर लखनऊ स्थित केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के आवास को घेरने का कार्यक्रम निर्धारित था। कांग्रेसी नेताओं ने प्रदेश भर से कार्यकर्ताओं को इस घेराव में शामिल होने के लिये बुलाया था। दोहपर तक प्रदेश कांग्रेस कार्यालय पर कार्यकर्ताओं की अच्छी खासी भीड़ इकट्ïठा हो गई। गृहमंत्री के आवास के घेराव को रोकने के लिये पुलिस ने भी पूरी तरह से कमर कस रखी थी और कांग्रेस कार्यालय के बाहर बैरीकेडिंग लगाकर गृहमंत्री के आवास की ओर जाने वाले मार्गों को बंद कर दिया था। जैसे ही कांग्रेसी कार्यकर्ता गृहमंत्री के आवास की ओर जाने के लिये बढ़े तो पुलिस और कार्यकर्ताओं में भिड़ंत हो गई। अपनी संख्या बल से उत्साहित कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने बैरीकेडिंग के ऊपर चढ़ नारेबाजी करते हुये आगे बढऩे की कोशिश की। उत्साही कार्यकर्ताओं को रोकने के लिये पुलिस को वाटर कैनन का इस्तेमाल करना पड़ा व नारेबाजी कर रहे कार्यकर्ताओं पर हल्की लाठियां भी फटकनी पड़ीं। पानी की बौछार और लाठी की फटकार पड़ते ही कांग्रेस कार्यकर्ता तितर-वितर हो गये। पुलिस ने कार्यकर्ताओं को कार्यालय के अंदर भेज कर गृहमंत्री के आवास के घेराव को टाल दिया।
यूथ कांग्रेस अध्यक्ष अंकित परिहार ने कहा जब से केंद्र में भाजपा की सरकार आई है महंगाई दिन पर दिन आसमान छूती जा रही है। देश की जिस जनता ने बीजेपी को सत्ता के शीर्ष तक पहुंचाया आज वही जनता अपने आप को ठगा सा महसूस कर रही है। उससे साफ जाहिर है कि कहीं न कहीं सरकार के नेता व मंत्री भ्रष्टïाचार के इन कार्यों में संलिप्त हैं। आज हमने इस मुद्ïदे को लेकर आवाज उठाने की कोशिश की तो पुलिस के दम पर हमारी आवाज को दबाने का प्रयास किया गया।

Pin It