गुडग़ांव पुलिस और नोएडा पुलिस के रिपोर्ट में मतभेद

  • गुडग़ांव पुलिस का दावा-शिप्रा मलिक का हुआ था अपहरण

Capture 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नोएडा। नोएडा फैशन डिजाइनर शिप्रा मलिक अपहरण मामले में नया मोड़ आया है। गुडग़ांव पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा करते हुए कहा कि शिप्रा मलिक का अपहरण हुआ था। गुडग़ांव पुलिस के मुताबिक नोएडा पुलिस की थ्योरी झूठ है।
गुडग़ांव पुलिस ने पुलिस ने दावा किया है कि शिप्रा अपहरणकर्ताओं के चंगुल से भागी थी. इतना ही नहीं शिप्रा ने सुल्तानपुर गांव के सरपंच से मदद भी मांगी थी।
गुडग़ांव पुलिस के मुताबिक सरपंच के मोबाइल से उन्हें फोन आया था। गुडग़ांव पुलिस ने कहा कि 4 लोगों ने शिप्रा का अपहरण किया था, लेकिन नोएडा पुलिस ने जो थ्योरी सामने रखी है वह एकदम गलत है।
डीआईजी मेरठ रेंज लक्ष्मी सिंह के मुताबिक शिप्रा अपनी मर्जी से गायब हुई थी। प्रेस कांफ्रेस में उन्होंने बताया कि टीवी सीरियल देखकर शिप्रा ने गायब होने का प्लान बनाया था। अब सवाल यह उठता है कि सच कौन बोल रहा है? नोएडा पुलिस या गुडग़ांव पुलिस?

Pin It