गरीबों को मिलेगा सस्ते फ्लैटों का तोहफा

आवास-विकास बनवाएगा सब्सिडी युक्त पांच हजार फ्लैट
अवध विहार और वृंदावन योजना में बनाये जाएंगे आवास
ईडब्ल्यूएस के लिए तीन लाख सालाना की आय सीमा निर्धारित

captureअंकुश जायसवाल
लखनऊ। उत्तर प्रदेश आवास एवं विकास परिषद नये साल पर गरीबों को सस्ते फ्लैटों का तोहफा देने जा रहा है। इन फ्लैटों को आम आदमी भी खरीद सकता है क्योंकि फ्लैटों की कैटेगरी के अनुसार सब्सिडी देने का निर्णय लिया गया है। योजना में फ्लैट खरीदने वाले आवंटियों को प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत 2.50 लाख रुपये का लाभ भी दिया जाएगा। इस आवास विकास की यह स्कीम सफल होगी, इसकी संभावना अधिक लग रही है। वहीं, परिषद ने तय कर लिया है कि वह महंगे फ्लैटों की अपेक्षा सस्ते फ्लैटों की ओर ज्यादा ध्यान देगा, जिससे परिषद का पैसा आसानी से निकल आये और घाटा न उठाना पड़े। फिलहाल आवास विकास इसी महीने 2500 फ्लैटों के लिए पंजीकरण खोलेगा। आवास विकास परिषद शहर में सब्सिडी वाले ऐसे 5000 फ्लैट बनाएगा। इन फ्लैटों की कीमत आठ लाख से 19 लाख रुपए तक होगी। इन मल्टीस्टोरी हाउसिंग स्कीम के लिए अवध विहार और वृंदावन योजना में फ्लैट बनेंगे।

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मिलेगा 2.50 लाख का लाभ
प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत इन मल्टीस्टोरी में फ्लैट खरीदने वालों को कीमत पर सीधे 2.50 लाख रुपए का लाभ मिलेगा। इसमें केंद्र व राज्य सरकार संयुक्त रूप से अनुदान देंगी। अधिकारियों के अनुसार परिषद अब महंगे फ्लैट नहीं बनाएगा। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत सस्ते फ्लैट बनाए जाएंगे।

यहां बनेंगे सस्ते फ्लैट
सुल्तानपुर रोड स्थित अवध विहार योजना में सेक्टर-5 में वन बीएचके टाइप-ए के 300 फ्लैट बनेंगे। इनकी कीमत करीब 9 लाख रुपये होगी। 38 वर्ग मीटर क्षेत्रफल के फ्लैट 12 मंजिल के होंगे। इसके अलावा वन बीएचके टाइप-बी के 250 फ्लैट बनेंगे। 45 वर्ग मीटर क्षेत्रफल के इन फ्लैटों की कीमत 16 लाख होगी और यह भी 12 मंजिल के होंगे। वहीं 19 लाख की कीमत के 400 फ्लैट टू बीएचके के होंगे। 12 मंजिल की इस योजना में 56 वर्ग मीटर फ्लैट का क्षेत्रफल होगा। रायबरेली रोड स्थित वृंदावन योजना सेक्टर-13 में ईडब्ल्यूएस जी प्लस सी योजना के 480 फ्लैट बनेंगे। क्षेत्रफल 40 वर्ग मीटर के इन फ्लैटों की कीमत करीब 11.50 लाख रुपए होगी। इसी प्रकार एलआईजी जी प्लस सी योजना के 480 फ्लैट बनेंगे। 60 वर्ग मीटर के फ्लैट की कीमत 21 लाख तक होगी। इनमें अलग-अलग कैटेगरी को ध्यान में रखकर फ्लैट बनाये गये हैं, इसलिए उम्मीद है कि सभी फ्लैट बिक जाएंगे।

आवास योजना के तहत छूट की लिमिट
प्रधानमंत्री आवास योजना में निर्धारित शर्तों के अनुसार 50 हजार रुपए महीने की इनकम वाले भी 2.50 लाख रुपए तक की सब्सिडी ले सकेंगे। योजना में ईडब्ल्यूएस के लिए तीन लाख और एलआईजी के लिए छह लाख रुपए सालाना आय की सीमा निर्धारित की गई है। आवंटियों के लिए ई-मेल व आवास विकास में आवंटी कहीं से भी किसी भी माध्यम से आनलाइन भुगतान कर सकेंगे। नए साल पर आवास विकास ई बैंकिंग की सुविधा आवंटियों को दे रहा है। इस सुविधा से शहर के लगभग 9,000 आवंटियों को सीधे लाभ मिलेगा। आवास विकास परिषद की तरफ से जनवरी 2017 से पहले चरण के अंतर्गत लखनऊ, गाजियाबाद और कानपुर में यह सुविधा शुरू की जाएगी।

क्या कहते हैं अधिकारी
आवास आयुक्त आरपी सिंह ने बताया कि अभी तक ऑनलाइन पेमेंट की सुविधा तो थी लेकिन लेजर अपडेट नहीं होता था। अब जैसे ही पैसा जमा करेंगे, रिकार्ड अपडेट हो जाएगा। वहीं, आवंटियों की तरफ से भुगतान करने के तुरंत बाद उसके पास एक एसएमएस आयेगा, जिसमें भुगतान की जानकारी दी जाएगी। अब हर आवंटी के लिए एक यूनिक आईडी भी बनाई जाएगी।

Pin It