क्लॉर्क अवध होटल के सीईओ पर छेडख़ानी का मुकदमा दर्ज

सीनियर एचआर को पुलिस ने दर्ज किया अज्ञात में
पीडि़ता की बदल दी गई तहरीर, महिला थाने में दर्ज हुआ मुकदमा

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
Captureलखनऊ। महिला और युवतियों को लेकर लखनऊ पुलिस कितना संवेदनशील है इसकी हकीकत उस समय देखने को मिली जब एक पीडि़ता ने होटल क्लॉर्क अवध के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अशोक अग्रवाल और सीनियर एचआर प्रमोद चतुर्वेदी के खिलाफ छेडख़ानी, रेप का प्रयास करने सहित कई संगीन मामलों में मुकदमा दर्ज कराने हजरतगंज कोतवाली पहुंची लेकिन मामला हाई-प्रोफाइल होने के कारण पुलिस ने इस मुकदमे को दर्ज करने से पहले समझौता का दौर प्रारम्भ कर दिया। हीलाहवाली के बाद पीडि़ता के आगे मजबूर हुई पुलिस को मुकदमा दर्ज करना पड़ा। हालांकि पुलिस ने तहरीर बदलवाकर जहां अशोक अग्रवाल के खिलाफ छेडख़ानी की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया वहीं एचआर प्रमोद चतुर्वेदी का नाम गायब कर पुलिस ने उसे अज्ञात में डाल दिया।
इंदिरानगर थाना क्षेत्र की निवासी एक युवती के मुताबिक वह डेढ़ माह पूर्व होटल क्लॉर्क अवध के रेस्टोरेंट में होस्टेज के पद पर ज्वाइन की थी। ज्वाइनिंग करने के बाद उसे मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) अशोक अग्रवाल ने उसके व्हाट्सएप्प पर अश्लील मैसेज भेजना प्रारम्भ कर दिया। इतना ही नहीं होटल में हर समय युवती को जहां गंदी नजरों से घूरा करते थे वहीं मौका पाकर छेडख़ानी करते थे। युवती ने इसका विरोध किया तो उसे नौकरी से निकाल देने की धमकी दी जाने लगी। युवती ने बताया कि आठ जून को सुबह लगभग सवा दस बजे अशोक ने युवती को अपने केबिन में बुलाया। केबिन में सीनियर एचआर प्रमोद चतुर्वेदी भी मौजूद थे। दोनेां ने मिलकर साफ तौर पर कहा कि यदि वह दोनों से शारीरिक सम्बन्ध नहीं बनायेगी तो उसे नौकरी से निकाल दिया जायेगा। इतना ही नहीं युवती के मुताबिक केबिन में उसके साथ जबरदस्ती करने का प्रयास किया गया। विरोध करने पर जान से मारने की धमकी दी। युवती केबिन से भागकर बाहर निकली और अपने परिजनों को फोन कर घटना की जानकारी दी। परिजनों को लेकर युवती हजरतगंज कोतवाली पहुंची और दोनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की तहरीर दी। पुलिस ने हीलाहवाली करते हुये तहरीर बदलवाकर सिर्फ छेडख़ानी और धमकी की धाराओं में अशोक अग्रवाल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच करने की बात कर रही है।
पहले भी सामने आई है क्लॉर्क अवध की गुंडई
होटल क्लॉर्क अवध के कर्मचारियों और अधिकारियों की गुंडई पहले भी सामने आ चुकी है। शादी के मामले को रोकने के लिए जब दुल्हे की पे्रमिका होटल में पहुंची थी तो होटल के कर्मचारियों ने उस युवती की पिटाई भी की थी। इसकी सूचना मिलने पर पहुंचे पत्रकारों और पुलिसकर्मियों से भी होटल के कर्मचारियों और अधिकारियों ने झड़प की थी।

Pin It