कैलेंडर से महात्मा गांधी की तस्वीर हटाने पर भडक़े कांग्रेसी

बापू के फोटो की जगह नरेन्द्र मोदी की फोटो लगाने का मामला
फोटो दोबारा प्रकाशित न होने पर दी आंदोलन की चेतावनी

capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। खादी ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) के कैलेंडर व डायरी में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की तस्वीर हटाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर लगाने पर कांग्रेसी भडक़ उठे हैं। कांग्रेसियों ने इसकी तीखी निंदा करते हुए मांग की है कि कैलेंडर और डायरी में महात्मा गांधी की तस्वीर लगाई जाए, अन्यथा पार्टी देशव्यापी आंदोलन चलाने को मजबूर होगी।
कंाग्रेस कमेटी के अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन व पूर्व एमएलसी हाजी सिराज मेंहदी ने जारी बयान में कहा कि महात्मा गांधी खादी के पर्याय थे। आजादी के आन्दोलन के दौरान खादी को महात्मा गांधी ने जिस मकसद और राष्ट्रीयता की भावना से अपनाया था, उस विचारधारा को केन्द्र की मोदी सरकार मिटाने में जुटी हुई है। श्री मेंहदी ने कहा कि केन्द्र की सत्ता पर काबिज होने के बाद मोदी सरकार द्वारा स्वच्छता अभियान के तहत गांधी की तस्वीर को हटाकर सिर्फ उनके गोल ऐनक को दर्शाया गया था। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश में गांधी की विचारधारा को हटाकर आरएसएस की विचारधारा को थोपने का लगातार कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी सत्ता में आने के बाद लगातार उनके प्रति विद्वेषपूर्ण कार्यों में जुटी हुई है, जिसे देश की जनता कभी स्वीकार नहीं करेगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी आजादी के आन्दोलन के दौरान स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों द्वारा पोषित मूल्यों और आजादी के महानायक रहे महात्मा गांधी की विरासत को मिटाने में जुटे हुए हैं, जिसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। श्री मेंहदी ने चेतावनी दी है कि यदि खादी ग्रामोद्योग आयोग द्वारा प्रकाशित किये जाने वाले कैलेंडर एवं डायरी के कवर पेज से प्रधानमंत्री की फोटो नहीं हटायी गयी और प्रतिवर्ष की भांति गांधी जी की फोटो नहीं प्रकाशित की गयी तो कंाग्रेसजन आन्दोलन करने के लिए विवश होंगे।

Pin It