केजीएमयू में हार्ट ट्रांसप्लांट की तैयारी

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
Captureलखनऊ। किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय में हाथ प्रत्यारोपण के साथ ही हार्ट ट्रांसप्लांट की भी कवायद शुरू हो गयी है। इसके लिए विशेषज्ञ चिकित्सकों के चयन के साथ संसाधन भी जुटाए जा रहे हैं। हालांकि, केजीएमयू प्रशासन की तरफ से अभी हार्ट ट्रांसप्लांट शुरू करने की घोषणा नहीं की गयी है।
सूत्रों की माने तो इसका मुख्य कारण डोनर का न मिल पाना है। डोनर मिलने के लिए कुछ शर्ते पूरी होनी जरूरी हैं। जिसमें पहली शर्त डोनर का ब्रेन डेड होना साथ ही परिवारीजनों का सहमति होना है। अभी तक ट्रांसप्लांट की राह में नेफ्रोलॉजी विशेषज्ञ चिकित्सकों कमी एक बड़ी चुनौती थी, जो दूर हो चुकी है। बीते सप्ताह केजीएमयू के नवगठित नेफ्रोलॉजी विभाग की ओपीडी शुरू कर दी गयी है। यह न्यू ओपीडी ब्लाक में है। इससे पहले विशेषज्ञों की कमी के कारण डायलिसिस यूनिट भी मेडिसिन विभाग के डाक्टर ही संचालित करते थे। न्यू ओपीडी ब्लाक के कमरा नम्बर 325 में नेफ्रोलॉजी विभाग की ओपीडी शुरू की गयी है। ऐसे में हृदय विभाग में ही नहीं बल्कि प्लास्टिक सर्जरी सहित कई विभाग में भी काफी उत्साह है। ट्रांसप्लांट किसी अंग का हो, दवाओं का लम्बा कोर्स चलता है। ऐसे में नेफ्रोलॉजिस्ट को बड़े दायित्व का निर्वाह्न करना होता है।

Pin It