कुर्की का नोटिस मिलने के बाद हरकत में आया केजीएमयू

तहसीलदार सदर की तरफ से केजीएमयू को भेजा गया नोटिस

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी पर करीब पांच करोड़ रुपये जलकल विभाग का बकाया है। इसको जमा करने में केजीएमयू के अधिकारी रुचि नहीं ले रहे हैं। इस कारण तहसीलदार सदर की तरफ से केजीएमयू को 11 जनवरी तक बकाया कर जमा नहीं करने पर कुर्की करके टैक्स वसूलने का नोटिस दिया गया है। इस नोटिस के मिलते ही केजीएमयू प्रशासन हरकत में आ गया है। वीसी ने जिलाधिकारी से मिलकर अतिरिक्त समय मांगने और शासन को पत्र लिखकर बकाया कर चुकाने के लिए रुपये मांगने की बात कही है।
तहसीलदार सदर जेपी यादव के मुताबिक केजीएमयू पर जलकर के रूप में करीब पांच करोड़ रुपये बकाया है। संस्थान की तरफ से जलकर जमा करने में घोर लापरवाही बरती गई है। केजीएमयू प्रशासन ने जल संस्थान की तरफ से अनेकों नोटिस भेजने के बावजूद कर जमा करने में रुचि नहीं ली। इस कारण बकाया कर की वसूली को गंभीरता से लेकर केजीएमयू को 11 जनवरी तक बकाया कर जमा करने का समय दिया गया है। यदि निर्धारित तिथि के अंदर जल कर जमा नहीं हुआ तो केजीएमयू की सम्पत्तियों की कुर्की करके बकाया कर वसूला जायेगा। वहीं केजीएमयू के वीसी प्रो. रविकांत बकाया जलकर जमा करने की समय सीमा बढ़वाने की कोशिशें शुरू कर दी हैं। विभागीय अधिकारियों की मानें तो इस संबंध में उन्होंने जिलाधिकारी से बात की है और कर जमा करने के लिए कुछ और दिनों की मोहलत मांगी है। इसके साथ ही शासन से जलकर जमा करवाने के लिए रुपये भी मांगे गए हैं, जिनको शासन स्तर के अधिकारियों से बात कर जल्द से जल्द निर्गत करवाने की कोशिशें की जा रही हैं।

Pin It