किसानों को उनकी उपज का उचित मूल्य दिलाने के लिए सरकार प्रयासरत: मुख्यमंत्री

राज्य सरकार प्रदेश के युवाओं का कौशल विकास करके उन्हें रोजगार उपलब्ध कराने की दिशा में लगातार कर रही है कार्य
दुग्ध उत्पादक के क्षेत्र में उत्तर प्रदेश का देश में पहला स्थान

Capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि समाजवादी सरकार किसानों को उनकी उपज का उचित मूल्य दिलाने के लिए लगातार प्रयासरत है। खाद्यान्न किसानों द्वारा ही उपजाया जाता है और हम सभी उसका उपभोग करते हैं। किसानों की आय और जीवन स्तर को बेहतर बनाकर ही देश और प्रदेश में तरक्की और खुशहाली आ सकती है और प्रदेश सरकार इसके लिए कृतसंकल्पित है।
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सैफ ई, इटावा में पी.एच.डी. चैम्बर ऑफ कॉमर्स और राज्य सरकार के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित विज्ञान से हरे-भरे खेत विषयक दो दिवसीय ‘उत्तर प्रदेश एग्री हार्टीटेक’ सेमिनार में लोगों को संबोधित कर रहे थे। सीएम ने कहा कि राज्य सरकार ने कृषि नीति, खाद्य प्रसंस्करण उद्योग नीति, कुक्कुट विकास नीति, कामधेनु डेयरी योजना आदि लागू की हैं, जिससे कृषि और कृषि से जुड़े क्षेत्रों का तेजी से विकास हुआ है। प्रदेश में प्रतिदिन 2 लाख अण्डों की खपत है, जिनका ज्यादातर हिस्सा आयात किया जाता है। इस खपत को राज्य से ही पूरा करने के लिए प्रदेश सरकार ने कुक्कुट विकास नीति लागू की है। इससे राज्य में प्रतिदिन अण्डों के उत्पादन में भारी वृद्धि हुई है। इसी प्रकार कामधेनु डेयरी योजना से दैनिक दूध उत्पादन में भी भारी बढ़ोत्तरी के साथ ही खेती और खेती से जुड़े क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर रोजगार सृजन भी हुआ है। उन्होंने कहा कि दुग्ध उत्पादन के क्षेत्र में उत्तर प्रदेश देश में प्रथम है।
श्री यादव ने भरोसा जताया कि यहां प्रदर्शित उन्नत और आधुनिक तकनीक से किसानों को वैज्ञानिक तरीके से खेती करके अपनी उपज बढ़ाने में सहायता मिलेगी। साथ ही, देश-विदेश से आए उद्यमियों को भी प्रदेश की खूबियों, यहां मिलने वाली सुविधाओं तथा प्रचुर मात्रा में यहां उपलब्ध कच्चे माल की जानकारी मिलेगी। इससे प्रदेश में उन्हें अपने निवेश का फैसला लेने में सहूलियत होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की समाजवादी सरकार डॉ. राम मनोहर लोहिया और नेताजी मुलायम सिंह यादव द्वारा दिखाए गए रास्ते का अनुसरण करते हुए आम जनता के लिए उपयोगी योजनाएं संचालित कर रही है। समाजवादी पेंशन योजना में लाभान्वित परिवारों की संख्या को 45 लाख से बढ़ाकर 55 लाख किए जाने का फैसला लिया गया है। प्रदेश सरकार ने बेरोजगारों को रोजगार मुहैया कराने के लिए तमाम कदम उठाए हैं। पुलिस भर्ती प्रक्रिया आसान कर दी गई है। इसमें अभी 30 हजार की भर्तीं निकाली गई है, जो कि आगे भी निकाली जाएगी।
श्री यादव ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के युवाओं का कौशल विकास करके उन्हें रोजगार उपलब्ध कराने की दिशा में लगातार कार्य कर रही है। इस क्षेत्र में उत्कृष्टï कार्य करने के लिए उत्तर प्रदेश को राष्ट्रीय स्तर पर पुरस्कृत किया गया है।
कार्यक्रम को खादी एवं ग्रामोद्योग मंत्री ब्रह्मा शंकर त्रिपाठी, कृषि मंत्री विनोद सिंह उर्फ पण्डित सिंह, डॉ. विन्देश्वर पाठक, गोपाल एस. जिवारझका, सुधांशु झांगीरमा ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर सांसद धर्मेन्द्र यादव, तेज प्रताप यादव, विधायक रघुराज शाक्य, श्रीमती सुख देवी वर्मा, कृषि उत्पादन आयुक्त प्रवीर कुमार सहित शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी तथा बड़ी संख्या में किसान भाई उपस्थित थे।

Pin It