काम में ढिलाई बरतने पर 20 अफसरों को नोटिस

  • सीडीओ को अभियान में दिलचस्पी लेने की हिदायत 

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। श्रम विभाग के 20 अधिकारियों को मजदूरों का रजिस्ट्रेशन करने में ढिलाई बरतने पर प्रतिकूल प्रविष्टि का नोटिस दिया गया है। इसके साथ ही इस अभियान में दिलचस्पी न लेने की वजह से 50 जिलों के मुख्य विकास अधिकारियों (सीडीओ) को भी हिदायत दी गयी है।
मालूम हो कि पंजीयन न होने से सरकारी लाभों से वंचित मजदूरों को उनका हक दिलाने के लिए सरकार ने पंजीयन का विशेष अभियान चला रखा है। कई बार चेतावनी के बावजूद श्रमिकों का समयबद्ध व शत प्रतिशत पंजीकरण नहीं होने पर प्रमुख सचिव श्रम अनिता भटनागर जैन ने श्रम विभाग के 20 अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। इसमें प्रतिकूल प्रविष्टि की चेतावनी भी दी गयी है। बीते दिनों हुई समीक्षा में यह भी सामने आया था कि 50 जिलों के मुख्य विकास अधिकारी (सीडीओ) इस अभियान में ज्यादा रुचि नहीं ले रहे हैं, उनके काम को शिथिल मानते हुए प्रमुख सचिव ने चेतावनी भरा पत्र लिखा है।
हालांकि पंजीकरण के लिए चलाए जा रहे विशेष अभियान में अब तक 3,30,997 मजदूरों का पंजीकरण हो चुका है। हाल ही में 2,63,451 श्रमिकों के आवेदन पंजीकरण के लिए आए हैं। इनमें सर्वाधिक 1,24,859 आवेदन मनरेगा मजदूरों के हैं। 84,929 सामान्य ग्रामीण मजदूरों और 22,145 ईंट-भ_ा मजदूरों के पंजीकरण आवेदन आए हैं। प्रमुख सचिव श्रम अनिता भटनागर जैन ने बताया कि शत-प्रतिशत मजदूरों का रजिस्ट्रेशन कराया जाएगा।

Pin It