कातिल तो दूर, वारिस भी नहीं तलाश पाती पुलिस

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राजधानी में महिलाओं और युवतियों की लाशें तो मिलती जा रही हैं लेकिन पुलिस को उनके कातिल नहीं मिल पा रहे हैं। विगत तीन माह में कई महिलाओं की लाशें मिली। लेकिन न ही उनकी शिनाख्त हो पाई और न ही उनके कातिलों का पता चल पाया। ऐसे में सवाल उठता है कि क्या राजधानी में महिला सुरक्षित नहीं है या फिर हाईटेक पुलिस हत्यारों को पकडऩे में नाकामयाब हो रही हैं। पिछले तीन महीने में दस से भी ’यादा लावारिश लाशें राजधानी में मिल चुकी हैं। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट की मानें तो अधिकतर महिलाओं के साथ बर्बरता की सारी हदें पार करके उन्हें मौत के घाट उतारा गया है। इसके बाद भी पुलिस इन फाइलों को बंद करने में अपनी बहादुरी समझती है। हालांकि राजधानी में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर पुलिस और अधिकारी कितने गम्भीर हैं इसका उदाहरण गौरी हत्याकांड, मोहनलालगंज रेप कांड देखकर ही अंदाजा लगाया जा सकता है।
गोसाईगंज थाना
24 अप्रैल कोगोसाईगंज के हबुवा पुल के पास इंदिरा नहर के किनारे 20 वर्षीय युवती का शव पड़ा मिला। उसके शरीर पर घाव के निशान के अलावा कपड़े अस्त-व्यस्त थे। युवती की दुष्कर्म के बाद हत्या किए जाने की आशंका जताई जा रही है। पीएम रिपोर्ट में हत्या की पुष्टि हुई जबकि रेप की पुष्टि के लिए स्लाइड को लैब भेज दिया गया। दो सप्ताह बाद भी शव की पहचान नहीं हो पाई है।
महानगर कोतवाली
25 फरवरी को महानगर थानांतर्गत मेट्रो सिटी के पास शाम गोमती नदी से बरामद हुए महिला के नग्न शव की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में उसकी हत्या की रिपोर्ट आई थी। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के अनुसार महिला के सिर में चार गंभीर चोट के निशान थे। हालांकि शव बुरी तरह सड़ जाने की वजह से यह स्पष्ट नहीं हो पाया कि उसके साथ रेप हुआ था या नहीं। रेप की पुष्टि के लिए महिला की वेजाइनल स्लाइड को फोरेंसिक लैब भेजा गया है। शव बरामदगी के महीनों बीत जाने के बाद भी उसकी शिनाख्त नहीं हो पाई है। पंचनामे के दौरान महिला के सीने के पास गरम रॉड से दागे जाने के निशान मिले थे। साथ ही महिला के शव से बोरे में रखकर पत्थर बांध कर फेंका गया था।
चिनहट कोतवाली
6 फरवरी को चिनहट के इमली बांध बाबा के पास एक महिला की सड़ी-गली लाश मिली। उसे कुत्ते नोचकर खा रहे थे। चिनहट के इमली बांध बाबा जंगल के पास कुछ बिजली के मिस्त्री काम कर रहे थे। तभी उन्हें झाडिय़ों के पास कुछ कुत्तों के गुर्राने की आवाज सुनाई दी। अपना काम निपटाने के बाद जब वे उस झाडिय़ों के पास पहुंचे तो वहां दुर्गंध फैली थी। कुत्ते किसी चीज को नोंच-नोंच कर खा रहे थे। पास जाकर देखा तो एक महिला का शव दिखाई दिया। उसे देखकर एक मैकेनिक ने पुलिस को फोन कर मामले की सूचना दी। लेकिन अभी तक शिनाख्त नहीं हो पाई।
वहीं & नवंबर 2014 को पुलिस को सूचना मिली की चिनहट में युवती की लाश खारजा माइनर के पास तैर रही है। काफी देर से पहुंची पुलिस ने किसी तरह शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। स्थानीय लोगों का आरोप था कि मौके पर तीन लाशें देखी गई थीं। पुलिस की कार्यवाही में देरी की वजह से दो लाशें बह गईं। इसमें भी महिला की शिनाख्त नहीं हो पाई।
नगराम थाना
22 जुलाई 2014 को नगराम थाना क्षेत्र के शारदा नहर में एक महिला की लाश मिली। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। अभी तक शव की शिनाख्त नहीं हो पाई।
पारा थाना
19 नवंबर 2014 को पारा थाना क्षेत्र में एक किशारी की लाश मिली। शव मिलने की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। अभी तक शव की शिनाख्त नहीं हो पाई।

 

Pin It