कस्तूरबा विद्यालय की वॉर्डन जांच में दोषी

छात्राओं के उत्पीडऩ का मामला
लखनऊ। कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय में छात्राओं का उत्पीडऩ करने के मामले में पूर्व वॉर्डन साधना पर लगाए गए आरोपों की पुष्टि हो गई है। खंड शिक्षा अधिकारी ने शनिवार को बीएसए को जांच रिपोर्ट सौंप दी है। इसके बाद बीएसए ने साधना को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है। बीएसए के अनुसार वॉर्डन को पहले ही निलम्बित किया जा चुका है। अब जवाब आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। वहीं अलका को नया वॉर्डन बना दिया गया है।
माल के कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय की वॉर्डन पर छात्राओं ने गंभीर आरोप लगाए थे। पीडि़त छात्राओं के अनुसार, बुधवार को वॉर्डन ने उनके कपड़े उतरवाकर मैदान में खड़ा करने के साथ पीटा भी था। इस बात की जानकारी होने के बाद अभिभावकों ने हंगामा किया था। छात्राओं का आरोप है कि शौचालय की सफाई न करने पर अक्सर कपड़े उतरवाकर फील्ड में बैठा दिया जाता है। पूर्व वॉर्डन पर पहले भी कई आरोप लग चुके हैं। इसके बाद कुछ दिन पहले निरीक्षण के लिए पहुंचे बीईओ ने किसी प्रकार की दिक्कत होने पर छात्राओं को अपना फोन नम्बर देकर सीधे शिकायत करने को कहा था। इसी के बाद मामला उजागर हुआ और कार्रवाई की गई है।

Pin It