कश्मीर में तनाव बरकरार

जम्मू-कश्मीर। हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकवादी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद अब तक 38 लोगों की मौत हो चुकी है। अलगाववादियों का संघर्ष अभी भी जारी है। घाटी में करीब 3100 से अधिक लोग घायल हो चुके हैं। स्थिति तनावपूर्ण होने की वजह से अब तक कफ्र्यू जारी है। जबकि वहां रहने वाले आम लोगों का जनजीवन ठप है। 

एक पुलिस अधिकारी ने बताया, ”एहतियात के तौर पर काननू-व्यवस्था बनाए रखने के लिए कश्मीर घाटी के सभी 10 जिलों में लगातार कफ्र्यू जारी है।ÓÓ उन्होंने बताया कि घाटी में कल भी पथराव की घटनाओं की बड़ी संख्या को देखते हुये कफ्र्यू जारी रखने का निर्णय लिया गया। अधिकारी ने बताया कि प्रतिबंधात्मक आदेशों को कड़ाई से लागू करने के लिए पूरी घाटी में पुलिस और अर्धसैनिक बल के जवानों को तैनात किया गया है। घाटी में अफवाह फैलाने वाली किसी भी घटना को रोकने के लिए मोबाइल टेलीफोन सेवाएं भी बंद रखी गयी है। बीएसएनएल का केवल पोस्टपेड टेलीफोन काम कर रहा है। इस क्षेत्र से गुजरने वाली ट्रेनों की सेवाएं भी ठप हैं। गौरतलब है कि अनंतनाग जिले के कोकरनाग इलाके में आठ जुलाई को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में बुरहान वानी और उसके दो सहयोगियों की मौत के बाद पिछले सप्ताह कश्मीर में हिंसक प्रदर्शन हुए हैं। सुरक्षा बलों के साथ संघर्ष में एक जवान सहित 38 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि सुरक्षा बलों के 1500 जवान सहित 3140 लोग घायल हो गये हैं।

Pin It