कर्म ही इंसान को महान बनाता है: आलोक रंजन

गीता, भागवत, वेदान्त एवं शास्त्रों से अच्छी जीवन शैली की प्रेरणा लें

Capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ । उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आलोक रंजन ने कहा कि मनुष्य को अपने कर्म के प्रति पूर्णरूप से ईमानदार होना चाहिए क्योंकि कर्म ही इंसान को महान बनाता है। उन्होंने कहा कि आज की भाग-दौड़ भरी जिन्दगी में मनुष्य के पास ईश्वर को भी याद करने का वक्त नहीं है। ऐसे में हमारे कर्म स्वच्छ एवं पवित्र हों तो वही कर्म पूजा बन जाता है। उन्होंने कहा कि इंसान को स्वस्थ्य जीवन जीने एवं सभी लक्ष्यों को प्राप्त करने हेतु व्यक्तिगत एवं व्यावसायिक जीवन में प्रबन्धन की बहुत बड़ी आवश्यकता है।
मुख्य सचिव श्री रंजन संत गाड्गे सभागार, गोमती नगर में फिक्की फ्लो, लखनऊ द्वारा आयोजित कार्यक्रम में लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कर्म से बढक़र कुछ नहीं है। मनुष्य का कर्म हमेशा सकारात्मक दिशा में होना चाहिए। उन्होंने कहा कि कनेक्टिविटी के इस युग में लोगों के जीवन में जो तेजी है उस कारण जीवन में तनाव है। उन्होंने कहा कि एक स्वस्थ्य जीवन शैली को बनाये रखने के लिए एवं सभी लक्ष्यों को प्राप्त करने हेतु हमारे व्यक्तिगत एवं व्यावसायिक जीवन में प्रबन्धन का बहुत महत्व है। उन्होंने कहा कि हमारे दैनिक जीवन में आध्यात्मिकता के साथ प्रबन्धन का संयोजन आवश्यक है। फिक्की फ्लो लखनऊ कानपुर चैप्टर की अध्यक्षा ज्योत्सना कौर हबीबुल्लाह ने बताया कि हम महिलाओं की सशक्तिकरण पर जोर देते हैं। इस अवसर पर आकांक्षा की अध्यक्ष श्रीमती सुरभि रंजन समेत अनेक लोग उपस्थित रहे।

Pin It